ENG | HINDI

पाकिस्तान में बैन हो गई थी ये 10 बॉलीवुड फिल्में !

फिल्में जो पाक में बेन हो गई

फिल्में जो पाक में बेन हो गई – हमारे पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में भी बड़ी संख्या में लोग बॉलीवुड फिल्मों और कलाकारों के फैन हैं, मगर दोनों देशों के खराब रिश्ते की वजह से अक्सर भारतीय फिल्में पाकिस्तान में बैन कर दी जाती है.

चलिए आपको बताते हैं फिल्में जो पाक में बेन हो गई – कौन-कौन सी फिल्में पाकिस्तान में अब तक बैन की जा चुकी हैं.

फिल्में जो पाक में बेन हो गई –

1 – ढिशूम-

जॉन अब्राहम, वरुण धवन और जैक्लीन फर्नांडीज की ये फिल्म पाकिस्तान में प्रतिबंधित हो चुकी है. ढिशूम की कहानी मिडिल-ईस्ट में लापता हुए टॉप बल्लेबाजों की है जिनकी तलाश की जिम्मेदारी दो पुलिसकर्मियों को सौंपी जाती है. फिल्म की कहानी एक भारतीय क्रिकेटर की है, जिसका भारत-पाक के क्रिकेट मैच से 36 घंटे पहले अपरहण कर लिया जाता है. फिल्म के ट्रेलर आने के बाद से ही पाकिस्तान में इस पर सवाल खड़े किए जा रहे थे और इसलिए इसे बैन कर दिया गया था.

2 – बेबी –

अक्षय कुमार की फिल्म “बेबी” भी पाकिस्तान में नहीं दिखाई गई. इस फिल्म में भारत का आतंकवाद दिखाया गया था और इसकी स्टोरी भी पाकिस्तान के खिलाफ थी. ये फिल्म 2015 में प्रदर्शित हुई थी.

3 – हैदर –

2014 में आई शहीद कपूर की हैदर कश्मीर के मुद्दों पर आधारित थी. इसमें यह कश्मीर उग्रवाद दर्शाया गया जो पाकिस्तान में गम्भीर मुद्दा हैं इसीलिए उसे पाकिस्तान में बैन किया गया था.

4 – जब तक है जान-

‘जब तक है जान’ फिल्म में शाहरुख खान ने इंडियन आर्मी ऑफिसर का किरदार निभाया था, जो बम-निरोधक टीम का हिस्सा थे. फिल्म में पाकिस्तानी आर्मी को लेकर कुछ डायलॉग्स थे इस फिल्म में जिसकी वजह से इसे पाकिस्तान में बैन कर दिया गया था.

5 – रांझणा –

2013 में आई सोनम कपूर और धनुष की फिल्म रांझणा भी पाकिस्तान में बैन कर दी गई थी क्योंकि इसकी कहानी में एक मुस्लिम लड़की को हिन्दू लड़के से प्यार हो जाता हो जाता है. इसी कहानी की वजह से ये फिल्म पाकिस्तान में नहीं दिखाई गई.

6 – एक था टाइगर–

2012 में आई सलमान खान और कैटरीना कैफ अभिनीत फिल्म ‘एक था टाइगर’ को भी पाकिस्तान में बैन कर दिया गया था. इसका कारण था कि इस फिल्म में पाकिस्तान के खिलाफ कुछ दृश्य थे.

7 – तेरे बिन लादेन –

2012 में अली जफर की फिल्म ‘तेरे बिन लादेन’ को भी पाकिस्तान में बैन कर दिया गया था. ये एक कॉमेडी फिल्म थी और भारत में ये फिल्म हिट रही थी. हालांकि, इस फिल्म के हीरो अली जफर भी पाकिस्तान के ही थे. फिल्म की कहानी पाकिस्तान पर आधारित थी, लेकिन आतंकवादियों के डर की वजह से इसे पाकिस्तान में बैन किया गया था.

8 – भाग मिल्खा भाग –

फरहान खान स्टारर फिल्म ‘भाग मिल्खा भाग’ को भी पाकिस्तान में बैन कर दिया गया था. इसकी वजह थी फिल्म में भारत और पाकिस्तान के विभाजन के दौरान हिंसा को सही ढंग से नहीं दिखाया गया था.

9 – डर्टी पिक्चर–

विद्या बालन स्टारर फिल्म ‘डर्टी पिक्चर’ को भी पाकिस्तान में बैन कर दिया गया था. 2011 में आई इस फिल्म को बैन करने का कारण था इसका बोल्ड सब्जेक्ट और कंटेंट. बता दें कि भारत में यह फिल्म खूब चली थी, लेकिन बोल्डनेस की वजह से पाकिस्तान में इसे बैन कर दिया गया.

10 – ‘खिलाड़ी 786’-

बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार यानी अक्षय कुमार और असिन स्टारर फिल्म ‘खिलाड़ी 786’ को पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड ने प्रदर्शित करने से इनकार कर दिया था. 786 नबंर मुसलमानों के लिए काफी पवित्र और पाक होता हैऔर सेंसर बोर्ड को लगता है कि नंबर 786 का फिल्म में काफी मजाक उड़ाया गया है.

ये है वो फिल्में जो पाक में बेन हो गई – कोई भी ऐसी फिल्म जिसमें आतकंवाद या कश्मीर का ज़िक्र होता है पाकिस्तान उसे तुरंत बैन कर देता है, क्योंकि शायद उसे डर रहता है कि फिल्मों में ही सही उसके झूठ का परदा फाश होते जनता न देख लें.

Don't Miss! random posts ..