ENG | HINDI

भारत रत्न डॉ एपीजे अब्दुल कलाम की जीवनगाथा, जो उनके जाने के बाद भी प्रेरित करती रहेगी

kalam-abdul

अवुल पकिर जैनुलाअबदीन अब्दुल कलाम

या फिर डॉ एपीजे अब्दुल कलाम न सिर्फ हमारे भारत के लिए प्रेरणास्त्रोत थे अपितु पूरी दुनिया के लिए एक आदर्श थे.

सादा जीवन उच्च विचार की एक साक्षात् प्रतिमा. आज बड़े दुःख की बात है कि हर पीढ़ी को प्रेरणा देने वाले डॉ अब्दुल कलाम हमारे बीच नहीं रहे.

शिलोंग में एक भाषण देते हुए उन्हें दिल का दौरा पड़ा और कुछ समय बाद ही उन्होंने अपने प्राण त्याग दिए.

अब्दुल कलाम भारत के सबसे लोकप्रिय राष्ट्रपति रहे थे.

मिसाइल मैन के नाम से विख्यात इस महान वैज्ञानिक ने भारत को मिसाइल और औध के क्षेत्र में एक नया मुकाम दिया.

चाहे अग्नि मिसाइल हो या पोखरण में परमाणु बम परिक्षण कलाम हमेशा रक्षा और अन्तरिक्ष अनुसन्धान के  के मामले में नए आयामों के पुरेधा रहे.

आज भारत ने अपना एक नायक खो दिया है. इतने प्रतिभाशाली और महान  इंसान पर उतनी ही सादगी. कलाम भले ही चले गये है, पर कलाम का जीवन हमेशा हमको प्रेरणा देता आया है और देता रहेगा.

रामेश्वरम के पास एक छोटे से गाँव धनुषकोटि के एक साधारण मुस्लिम परिवार में कलाम का जन्म हुआ. धार्मिक सहिष्णुता का माहौल कलाम को बचपन से घर में ही मिला. कलाम देश के शायद ऐसे अकेले राष्ट्रपति थे जिन्हें ना सिर्फ देश का बच्चा बच्चा जानता था बल्कि उनके बारे में जानना और पढना चाहता था.

राष्ट्रपति रहते हुए भी कलाम लोगों से कभी दूर नहीं हुए, उनके भाषण, साक्षात्कार और व्याख्यान सभी को प्रेरित करते रहे थे.

आइये भारत रत्न डॉ कलाम की कही कुछ प्रेरक बातें याद करके और उनकी जीवनगाथा दिखाकर  हम हमारे नायक को श्रद्धांजलि देते है

Abdul-kalam

1 2 3

Don't Miss! random posts ..