ENG | HINDI

आप नहीं खरीदेंगे बुलेट जब जानेंगे उसकी ये 5 खामियां !

बुलेट की खामियां – भारत में अधिकांश लोग बाइक चलाने का शौक रखते हैं और इसके लिए सबसे बेहतरीन बाइक खरीदते भी हैं. बात करें बाइक्स की तो अधिकांश भारतीय बाइकर्स को बुलेट यानी रॉयल एनफील्ड पसंद आती है.

भले ही रॉयल एनफील्ड अधिकांश लोगों की पहली पसंद है लेकिन अगर उसके इस्तेमाल, क्वालिटी और कीमत की बात की जाए तो फिर बुलेट में कई खामियां निकाली जा सकती है.

अगर आप बुलेट खरीदने का प्लान बना रहे हैं तो फिर आपको बुलेट की खामियां जानना बेहद आवश्यक है. शायद इसकी खामियों को जानकर आप बुलेट खरीदने का इरादा ही बदल दें.

बुलेट की खामियां –

1- बुलेट का भारी भरकम वज़न

रॉयल एनफील्ड यानी बुलेट की सबसे बड़ी खामी है उसका भारी भरकम वज़न. इस बाइक का वज़न कम से कम 200 किलो तक होता है. दरअसल बुलेट के क्लासिक लुक को बनाए रखने के लिए इसका वज़न ज्यादा होता है.

ज्यादातर बुलेट चलानेवालों का मानना है कि इसके भारी भरकम वज़न की वजह से इसे पहाड़ों पर आसानी से चलाया जा सकता है. लेकिन जरा सोचिए अगर आपकी बुलेट बीच रास्ते में कहीं खराब हो गई तो फिर इसकी मरम्मत के लिए आपको राम भरोसे ही रहना पड़ सकता है.

2- हाइवे के लिए नहीं ये बाइक

रॉयल एनफील्ड की दूसरी खामी यह है कि 350 सीसी की बाइक होने के बावजूद यह एक्सप्रेस हाईवे पर भी 70 की स्पीड पर सफर को मुश्किल बना देती है. इसका वाइब्रेशन और हाइवे पर इसकी सवारी इंसान को जल्दी थका देती है. और तो और नई बुलेट की सर्विस को लेकर भी काफी समस्याएं हैं क्योंकि इसके ज्यादातर मैकेनिक पुरानी बुलेट के जानकार होते हैं.

3- बुलेट की खराब क्वालिटी

आपको बता दें कि बुलेट के खराब होने का रिस्क बहुत ज्यादा होता है. बीच हाइवे पर बुलेट चलाते-चलाते इसकी चेन खराब होने के कई मामले सामने आए हैं. इसके साथ ही बुलेट के ब्रेकिंग सिस्टम पर आंख बंद करके भरोसा भी नहीं किया जा सकता. इसके अलावा ठंड के मौसम में अक्सर इसे स्टार्ट करने के लिए लोगों को देर तक किक मारना पड़ता है.

4- कम माइलेज है बड़ी समस्या

आप कितनी भी महंगी रॉयल एनफील्ड क्यों ना खरीद लें लेकिन ये 35 किलोमीटर से ज्यादा का एवरेज नहीं देती है. जबकि दूसरी कई बाइक्स में इस तरह की कोई परेशानी नहीं आती है. आपको बता दें कि बुलेट का पेट्रोल टैंक भी बहुत छोटा होता है जिसके चलते लंबे सफर के लिए इसपर भरोसा करना ठीक नहीं है.

5- बुलेट की कीमत है बहुत ज्यादा

जैसा कि बुलेट को रॉयल एनफील्ड कहा जाता है तो इसके नाम के हिसाब से इसकी कीमत भी है. बुलेट की कीमत एक से डेढ़ लाख रुपये के बीच बताई जाती है. वहीं 1 लाख के अंदर कई दूसरी बेहतर गाड़ियां मार्केट में मौजूद हैं जो बढ़िया लुक के साथ-साथ बेहतर माइलेज का भी भरोसा दिलाती हैं.

ये है बुलेट की खामियां – बहरहाल अगर आप रॉयल एनफील्ड क्लब या बुलेट बाइकर्स गैंग का हिस्सा बनना चाहते हैं तो फिर आप इस गाड़ी को शौकिया तौर पर खरीद सकते है लेकिन अगर आप कम बजट में अच्छे फीचर्स और माइलेज वाली बाइक खरीदना चाहते हैं तो फिर आपकी जरूरत के हिसाब से कई बेहतर ऑप्शन्स मार्केट में उपलब्ध हैं.

Don't Miss! random posts ..