ENG | HINDI

इस ग्रह के खराब प्रभाव से भी बढ़ता है मोटापा, जानिए क्या करें?

गुरु ग्रह

गुरु ग्रह – कुछ लोग ग्रह, अंकशास्त्र, ज्योतिषशास्त्र में विश्वास रखते हैं तो कुछ इन बातों को नहीं मानते हैं लेकिन ये बात सच है कि ग्रहो का मनुष्य जीवन पर सबसे ज्यादा पड़ता है।

कौन सा ग्रह किस स्थिति में हैं, ये किसी भी व्यक्ति के जीवन पर अच्छे और बुरे दोनों प्रभाव डालता है।

शारीरिक, मानसिक और सामाजिक तीनों स्तर पर ही ये ग्रह मनुष्य जीवन को प्रभावित करते हैं आज हम आपको एक ऐसे ही ग्रह के बारे में बताने जा रहे हैं जो ना केवल आपके मोटापे, खराब पाचन तंत्र की वजह हो सकता है बल्कि ये आपके जीवन में कितनी खुशी और कितनी परेशानियां रहेंगी, ये भी निर्धारित करता है।

हम बात कर रहे हैं गुरु ग्रह की, ग्रहों में गुरु को महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है। गुरु ग्रह को देवताओं के गुरु की संज्ञा दी गई है और इसलिए सिर्फ मनुष्य जीवन में नहीं, बल्कि देवी-देवताओं के जीवन में गुरु ग्रह का महत्वपूर्ण स्थान है।

गुरु ग्रह

ऐसा कहा जाता है कि देवगुरु बृहस्पति अपने ज्ञान से देवताओं की असुरों से रक्षा करते हैं और देवताओं को यज्ञ में उनके हिस्से का पुण्य प्रताप दिलवाने का उत्तरदायित्व भी गुरु पर ही है।

अगर बृहस्पति के स्वरूप की बात करें तो इनका शरीर पीले रंग का है, पीले वस्त्र, सिर पर सोने का मुकुट तथा गले में मालाएं इनके रूप को सुशोभित करते हैं।

गुरु ग्रह

कथाओं में ऐसा वर्णित है कि देवगुरु बृहस्पति ने कईं सालों तक भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए कठोर तपस्या की थी और उसके बाद उनके तप से प्रसन्न होकर भगवान शिव ने उन्हे देवगुरु का पद और नवग्रहों में एक का स्थान दिया था।

चलिए अब आपको बताते हैं कि गुरु किस तरह मोटापे का कारक बनता है। दरअसल,  लग्न या लग्न के स्वामी पर बृहस्पति का असर होने पर व्यक्ति को मोटापे का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा अगर गुरु पर किसी पाप ग्रह का प्रभाव हो तो भी मोटापा बढ़ सकता है।

गुरु ग्रह

मोटापा बढ़ने के अलावा खाना पचाने की प्रक्रिया को भी गुरु प्रभावित करते हैं। गुरु कमज़ोर होने पर इंसान का पाचन तंत्र बिगड़ने लगता है। इसके साथ ही बृहस्पति शरीर के जिस हिस्से में हो, उसे लंबी बीमारियां घेर सकती हैं। गुरु को प्रसन्न करने के लिए दाहिने हाथ की तर्जनी उंगली में तांबे या पीतल का छल्ला पहनना लाभकारी माना जाता है।

अगर आप गुरु ग्रह की वजह से बढ़े मोटापे से निजात पाना चाहते हैं तो रोज सुबह-शाम बृहस्पति के मन्त्र ‘ॐ बृं बृहस्पतये नमः’ का जाप कीजिए, इससे बृहस्पति गुरु प्रसन्न होते हैं। इसके साथ ही एकादशी का व्रत और खाने में नींबू-दही का इस्तेमाल भी आपको गुरु के कारण बढ़े मोटापे से निजात दिलवा सकता है।

गुरु ग्रह

गुरु ग्रह से जुड़ी ये अनजानी बातें आपको पसंद आईं होंगी, ऐसा हमे यकीन है। अगर आप भी इनमें से किसी परेशानी से ग्रसित हैं तो गुरु को प्रसन्न करने के उपाय करें। इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए।

Don't Miss! random posts ..