ENG | HINDI

बिहार के इस लड़के को गूगल से मिला है एक करोड़ का पैकेज, जल्द भरेंगे सपनों की उड़ान

एक करोड़ का पैकेज

एक करोड़ का पैकेज – प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती और जिस भी इंसान में प्रतिभा होती है वो देर सवेर अपनी मंज़िल को पा ही लेता है, यही साबित किया है बिहार के आदर्श कुमार ने, जिन्हे सबसे पॉपुलर सर्च इंजन गूगल ने एक करोड़ बीस लाख रुपये सालाना की सैलरी पर नौकरी दी है।

आदर्श ने अपनी प्रतिभा और कड़ी मेहनत के दम पर ना केवल अपने पंखों को परवाज़ दी और अपने सपनों की उड़ान भर ली। वैसे तो हम सभी ये बात जानते हैं कि कम सुविधाएं, मुश्किल हालात, उम्र, परेशानियां उस इंसान के रास्ते में रोड़ा नहीं बन सकती जिनके अंदर प्रतिभा हो, और समय-समय पर हमारे देश की प्रतिभाएं इस बात को साबित भी कर देती हैं।

और अब ये कारनामा कर दिखाया है आदर्श कुमार ने, बिहार के रहने वाले आदर्श के बारे में सबसे रोचक बात ये है कि पटना के आदर्श ने आईआईटी रूड़की से मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री है पर अपने करियर की शुरूआत उन्होने सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग से की।

आदर्श की सफलता की ये कहानी काफी दिलचस्प है। उन्होने 2014 में पटना के बीडी पब्लिक स्कूल से इंटरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण की। बारहवीं में उन्होने 94 प्रतिशत अंक हासिल किए। केमिस्ट्री और मैथ्स में उन्हे 100 अंक मिले थे।

इसके बाद उन्होने जेईई एंट्रेंस क्लीयर किया और इसके बाद उन्हे आईआईटी रूड़की की मैकेनिकल ब्रांच में एडमिशन मिला।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने के बाद सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में अपनी दिलचस्पी को लेकर आदर्श बताते हैं कि उन्हे बचपन से ही गणित बहुत पसंद था, अलग-अलग सवालों को अलग ढंग से हल करना उनकी हॉबी था। और शायद यही वजह थी कि मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने के बाद भी उनका रुझान सॉफ्टवेयर प्रोग्रामर बनने में हुआ।

आदर्श का गूगल में जाने का सफर भी इत्तेफाक और उनके टैलेंट की मिली-जुली कहानी है।

उन्हे गूगल के इंटरव्यू के लिए उनके एक सीनियर हर्षिल शाह ने रेफर किया था, हर्षिल पहले से ही गूगल में जॉब कर रहे थे और उन्होने आदर्श से पूछा कि अगर वो गूगल में नौकरी पाना चाहते हैं तो वो उन्हे रेफर कर सकते हैं।

आदर्श को हर्षिल ने बताया कि प्रोगामिंग स्किल्स अच्छे होने पर वो गूगल का इंटरव्यू क्लियर कर सकते हैं।

आदर्श ने गूगल में अप्लाई किया और फिर लगातार दो महीने तक चले कई ऑनलाइन और हैदराबाद में हुए ऑन-साइट स्टेज टेस्ट के बाद आखिरकार इनकी मेहनत और प्रतिभा रंग लाई और इन्हे गूगल में एक करोड़ का पैकेज पर नौकरी मिल गई।

एक करोड़ का पैकेज

आदर्श पहली अगस्त से गूगल के म्यूनिख (जर्मनी) में अपनी नौकरी शुरू करेंगे। आदर्श अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा में भी देश का नाम रोशन कर देश को गौरवान्वित कर चुके हैं। उनकी टीम को चीन के बीजिंग में हुए प्रोग्रामिंग कॉन्टेस्ट एसीएम-आईसीपीसी कॉम्पटिशन में भारत की 8 टीमों के बीच दूसरा और दुनिया भर की 140 टीमों में उन्हें 56वां स्थान मिला।

आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन एक करोड़ का पैकेज मिलने के बाद भी आदर्श में लेश मात्र भी घमंड नहीं है बल्कि वो इसे साधारण बात मानते हैं।

आदर्श को उनके नए सफर के लिए हमारी तरफ से ढ़ेर सारी बधाई!

Don't Miss! random posts ..