ENG | HINDI

4G से लगभग 20 गुना तेज चलेगा 5G इंटरनेट, जानें कब आ रहा है भारत में

5G इंटरनेट

5G इंटरनेट- आजकल लगभग सब कुछ इंटरनेट पर निर्भर हो गया है।

कपड़े खरीदने से लेकर खाने तक के लिए इंटरनेट का इस्‍तेमाल किया जाने लगा है। बिजनेस और खरीदारी के लिए भी अब कंप्‍यूटर और मोबाइल फोन पर इंटरनेट की मदद ली जाती है। सरकारी कामों में भी अब ऑनलाइन भुगतान की सुविधा उपलब्‍ध है।

इंटरनेट की बढ़ती हुई मांग और जरूरत को देखते हुए ही टेलिकॉम कंपनियों ने 4जी सेवा लॉन्‍च की थी लेकिन ये सर्विस अपने लक्ष्‍य को पूरा करने में नाकाम रही क्‍योंकि सब कुछ ऑनलाइन होने की वजह से 4जी सेवा पर काफी लोड बढ़ गया।

इस वजह से अब कुछ कंपनियां भारत में 5G इंटरनेट लॉन्‍च करने की तैयारी में लग गई हैं।

सबसे पहले इस देश में आया था 5जी

आपको बता दें कि आज दुनियाभर के देशों में तकनीक की दौड़ काफी तेज चल रही है और इस रेस में सबसे आगे है कतर। जी हां, इस देश ने सबसे पहले 5जी लॉन्‍च किया था। कुछ देशों में साल 2019 में 5जी सेवा लॉन्‍च हो सकती है। इस लिस्‍ट में भारत भी शामिल है। से नई रेडियो तकनीक पर काम करेगा।

इस साल भारत आएगी 5जी सेवा

अनुमान है कि भारत में अगले साल  तक 5G इंटरनेट हाई स्पीड सेवा शुरु हो जाएगी। भारत के अलावा 2019 में दक्षिण कोरिया, चीन, जापान और अमेरिका जैसे देशों में भी 5जी सर्विस शुरु हो सकती है। इन सभी देशों का दावा है कि इस सेवा के आ जाने के बाद ही इंटरनेट की स्‍पीड लगभग 10 से 20 गुना तक बढ़ जाएगी। कहा जा रहा है कि 5जी के आने के बाद जीवन में कई सारे बदलाव आ सकते हैं।

मोबाइल बदलने पड़ सकते हैं

आपको याद होगा कि जब 4जी आया था तो लोगों को 2जी और 3जी मोबाइल को बदलना पड़ा था। अगले साल भी कुछ ऐसा ही होगा। मार्केट में 4जी स्‍मार्टफोंस की जगह 5जी फोन ले लेंगें और इसके चलते आपको अपना फोन बदलना पड़ेगा। इसके लिए मोबाइल कंपनियों को स्‍मार्टफोन में 5जी कंपैटिबल नई चिप लगाने की जरूरत पड़ सकती है।

5G इंटरनेट तकनीक की शुरुआत साल 2010 में शुरु हो चुकी थी और इसे मोबाइल नेटवर्क की 5चीं जेनरेशन कहा जा रहा है। भारत में साल 2008 के अंत से 3जी सेवाएं एमटीएनएल की ओर से शुरु की गई थी और इसके बाद वोडाफोन और एयरटेल जैसी कंपनियों ने मार्केट में अपने प्‍लान शुरु किए। लोगों को सुचारू रूप से 3जी सेवाएं मिलना शुरु नहीं हुई थीं कि इससे पहले कंपनियों ने 4जी सेवा लॉन्‍च कर दी।

लेकिन 5G इंटरनेट को लेकर लोगों की आकांक्षाएं भी अपार हैं। भारत में 5जी की सेवाएं एक बहुत बड़े व्‍यापारिक बदलाव की गवाह बन सकती हैं।

अब देखते हैं कि अगले साल तक भारत को 5G इंटरनेट का तोहफा मिलता है या नहीं और क्‍या पहले की तरह ही इस बार भी नई इंटरनेट स्‍पीड के आने पर लोगों को अपना मोबाइल फोन बदलना पड़ेगा या नहीं। 5जी का हर किसी को बेसब्री से इंतजार है कि कब ये इंटरनेट सुविधा देश में लॉन्‍च और हमारी किस्‍मत बदल जाए।

दोस्‍तों, भारत में 5जी को लेकर आपका क्‍या कहना है ?

Don't Miss! random posts ..