ENG | HINDI

कितनी है और कहाँ से आती है प्रधानमंत्री की सैलरी !

प्रधानमंत्री की सैलरी

प्रधानमंत्री की सैलरी – भले ही देश का सबसे प्रतिष्ठित नागरिक राष्‍ट्रपति को माना जाता हो लेकिन सबसे ज्‍यादा पॉवर्स और नाम तो देश के प्रधानमंत्री का ही होता है।

अब आप हमारे देश के पीएम को ही ले लीजिए। जितना ज्‍यादा पीएम मोदी दिखते हैं उतना देश के राष्‍ट्रपति कोविंद जी नहीं दिख पाते।

कभी मोदी जी रैली या भाषण में दिखाई देते हैं तो कभी अपने विदेश दौरे को लेकर चर्चा में रहते हैं। मोदी जी तो कोई महंगा कपड़ा भी पहन लें तो वो भी देशभर के लिए चर्चा का विषय बन जाता है। देश में हर कोई मोदी के ‘अच्छे दिनों’ का बेसब्री से इंतजार कर रहा है। प्रधानमंत्री बनने के बाद से लेकर अब तक मोदी जी द्वारा किए गए कार्यों की रफ्तार काफी सुस्त रही है।

हाल ही में मोदी जी लंदन के दौरे पर गए थे और वहां पर एक मीटिंग के दौरान उनसे पूछा गया कि उनकी सेहत का क्‍या राज़ है ?

इस पर मोदी जी ने कहा कि वो रोज़ 1 से 2 किलो गालियां खाते हैं और यही उनकी सेहत का राज़ भी है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि ये गालियां खाने के लिए मोदी जी को कितनी सैलरी मिलती है और ये सैलरी उन्‍हें कौन देता है ?

अगर आप भारत के नागरिक हैं तो आपको ये जरूर पता होना चाहिए कि मोदी जी को कितनी सैलरी मिलती है और उन्‍हें कौन सैलरी देता है।

कितनी मिलती है सैलरी

बतौर प्रधानमंत्री मोदी जी को हर महीने 1 लाख 60 हज़ार रुपए की सैलरी मिलती है।

सूचना के अधिकार से मिली इस जानकारी के मुताबिक देश के पीएम को 1 लाख 60 हज़ार की सैलरी दी जाती है। इस सैलरी के अलावा मोदी जी को राजधानी दिल्‍ली के केंद्र में 7 आरसीआर का आलीशान बंगला, गाडियों का काफिला, अपना पर्सनल जेट प्‍लेन और स्‍टाफ का काफिला आदि जैसी सुविधाएं भी मिलती हैं।

कहां से आती है सैलरी

अब आप सोच रहे होंगें कि प्रधानमंत्री की सैलरी कहां से आती है। आपको बता दें कि पीएम को सैलरी संचित निधि से दी जाती है।

भले ही भारत के पीएम का दुनियाभर में दबदबा हो लेकिन उनकी सैलरी दुनिया के कई देशों के नेताओं से काफी कम है। सबसे ज्‍यादा सैलरी अमेरिका के पूर्व राष्‍ट्रपति बराक ओबामा को मिलती थी। उनकी एक महीने की सैलरी 2.5 करोड़ रुपए थी। ये किसी भी राजनेता की सैलरी से कई ज्‍यादा है। कनाडा के प्रधानमंत्री की सैलरी 1.6 करोड़ रुपए है। जर्मनी की चांसलर की सैलरी 1.4 करोड़ रुपए है। दक्षिण अफ्रीका के राष्‍ट्रपति की सैलरी 1.4 करोड़ रुपए है।

ये है प्रधानमंत्री की सैलरी – इस तरह देखा जाए तो भारत के देशवासियों की तरह ही पीएम मोदी जी को भी काफी कम सैलरी मिलती है लेकिन आपको बता दें कि भारत में हर क्षेत्र में नौकरी पर दूसरे देशों की तुलना में बहुत कम सैलरी ही दी जाती है।

सिर्फ पीएम, सीएम या विधायकों या उच्‍च अधिकारियों  बात नहीं है यहां पर डॉक्‍टर्स, इंजीनियर और अन्‍य सेक्‍टर्स में काम करने वाले लोगों की सैलरी भी बाकी देशों से काफी कम है औ यही सच है जो ना चाहते हुए भी हमें स्‍वीकार करना पड़ेगा।

Don't Miss! random posts ..