ENG | HINDI

इन 5 राशिवाले लोगों से जो प्यार करता है वो अक्सर पछताता है !

प्यार में पछताना

प्यार में पछताना – कहते हैं कि प्यार अंधा होता है शायद इसलिए कोई पहली नजर में ही अपने पार्टनर के प्यार में गिरफ्तार हो जाता है तो कई लोगों को कुछ मुलाकातों में एक-दूसरे से प्यार का अहसास होता है.

जब तक प्यार नया-नया होता है तब तक एक-दूसरे की हर आदत पर प्यार आता है और रिलेशनशिप में सबकुछ अच्छा ही लगता है लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता है वैसे-वैसे रिश्तों में कड़वाहट आने लगती है.

हद तो तब हो जाती है जब प्यार में पड़नेवाले कई लोगों को प्यार में पछताना पड़ता है और वो अक्सर सोचते हैं कि उन्होंने आखिर प्यार किया ही क्यों?

अगर आपके साथ भी ऐसा ही कुछ हो रहा है तो हो सकता है कि आपकी राशि आपके पार्टनर की राशि से मेल नहीं खा रही हो जिसके चलते आपको  प्यार में पछताना पद  रहा है.

तो चलिए हम आपको उन राशि की जोड़ियों से रूबरू कराते हैं जिस्नको प्यार करने के बाद प्यार में पछताना पड़ता है –

प्यार में पछताना –

1- मेष और वृषभ राशि

अगर मेष राशि और वृषभ राशिवाले लोगों को आपस में प्यार हो जाए तो इस रिश्ते में अक्सर मदभेद होने की गुंजाइश बनी रहती है क्योंकि मेष राशिवाले बेहद आत्मविश्वासी और भावुक होते हैं जो किसी और की बात को सुनना पसंद ही नहीं करते हैं.

वहीं दूसरी तरफ वृषभ राशि वाले लोग वफादार, व्यवहारिक और नवीन दृष्टिकोण रखनेवाले होते हैं. इसलिए वो अक्सर प्यार में अपने भविष्य को लेकर परेशान रहते हैं जबकि मेष राशिवाले किसी को भी रिश्ते में बांधकर रखना पसंद नहीं करते हैं. इन दोनों राशि के लोग अगर प्यार में पड़ जाएं तो उनके रिलेशनशिप में अक्सर वैचारिक मतभेद रहते हैं.

2- कर्क और मकर राशि

कर्क और मकर राशि एक-दूसरे के बिल्कुल विपरित मानी जाती है ऐसे में अब आप ही सोचिए कि अगर इस राशि के लोगों को अगर एक-दूसरे से प्यार हो जाए तब क्या होगा. जाहिर है दोनों के बीच अक्सर किसी ना किसी बात को लेकर झगड़ा होता ही रहेगा.

एक ओर जहां मकर राशिवाले सहनशील और स्थिर होते हैं तो वहीं कर्क राशिवाले लोग अक्सर अपने सपनों की दुनिया में खोए रहते हैं. इन दो राशियों का मेल तभी हो सकता है जब इनमें से कोई एक पूरी तरह से खुद को अपने रिश्‍ते के लिए समर्पित कर दे वरना इन्हें प्यार करने पर पछतावा होता ही रहेगा.

3- वृश्चिक और मिथुन राशि

वृश्चिक और मिथुन राशि के लोगों का मिलन, उन दोनों के अलावा उनके आसपास के लोगों के लिए भी परेशानी का सबब बन जाता है. मिथुन राशि के लोग उग्र और खुशमिज़ाज होते हैं तो वृश्चिक राशि के लोग अक्सर मितभाषी, रहस्यमयी और बहुत अधिक विचारशील होते हैं.

इन दोनों राशि के लोग चाहकर भी एक-दूसरे पर भरोसा नहीं कर पाते हैं. वृश्चिक राशि के लोगों का स्वभाव ईर्ष्यालु और शकी किस्म का होता है जबकि मिथुन राशि के लोग बिल्कुल धैर्यहीन और लापरवाह होते हैं. इसलिए अक्सर इन राशि के लोगों को प्यार करने के बाद पछतावा होने लगता है.

4- धनु और वृषभ राशि

धनु और वृषभ राशि के लोगों का मिलन भी किसी ना किसी मतभेद को जन्म देनेवाला होता है. एक ओर जहां धनु राशि के लोग वृषभ राशि के जातकों के निराशावादी स्वभाव को समझ नहीं पाते हैं तो वहीं वृषभ राशि के लोग भी अपने पार्टनर के स्वभाव को समझ नहीं पाते हैं.

धनु राशि के लोग हमेशा धैर्यवान और सतर्क रहते हैं जबकि वृषभ राशि के लोग नीरस और ऊबाऊ किस्म के होते हैं. इसलिए दोनों के बीच प्यार होने के बाद अक्सर मतभेद बना रहता है.

5- वृषभ और सिंह राशि

वृषभ और सिंह राशि के रिलेशनशिप के बीच अक्सर सबसे बड़ी परेशानी तब पैदा हो जाती है जब दोनों अपने रिश्ते में अपना सर्वस्व देने में असफल रहते हैं.

कहा जाता है कि सिंह राशि की इच्‍छाओं को पूरा करने में वृषभ राशि के लोग अक्सर असफल रहते हैं. वहीं सिंह राशि के लोग अपने स्‍वार्थ के कारण वृषभ राशि के लोगों को उनकी इच्छा के मुताबिक प्यार नहीं दे पाते हैं. ऐसे में दोनों ही पार्टनर कभी एक-दूसरे को संतुष्ट नहीं कर पाते हैं.

बहरहाल अगर आपकी और आपके पार्टनर की राशि इन पांच राशियों की जोड़ियों में शामिल है तो आपको प्यार  के मामले में सोच-समझकर फैसला लेना चाहिए नहीं तो आपको भी प्यार करने के बाद पछताना पड़ सकता है.

Don't Miss! random posts ..