ENG | HINDI

लालू के गढ़ बिहार में मचने वाली है खलबली क्योंकि योगी दलबल के साथ लालू को घेरने जा रहे हैं

योगी की बिहार यात्रा का मकसद

योगी की बिहार यात्रा का मकसद – भाजपा लालू प्रसाद यादव को उनके ही गढ़ में घेरने की योजना बना रही है.

इसके लिए भाजपा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और पार्टी के फायर ब्रांड नेता योगी आदित्य नाथ को मैदान में उतारने जा रही है. मुख्यमंत्री योगी और उनकी कैबिनेट के कुछ सहयोगी जल्द ही बिहार यात्रा पर जाने वाले हैं.

बताया जाता है कि योगी की बिहार यात्रा का मकसद राज्य की भाजपा ईकाई में जोश भरने और जान फूंकने के साथ ही अगस्त में होने वाली लालू की आरजेडी की रैली की हवा निकालने की है.

गौरतलब है कि अगस्त में प्रस्तावित आरजेडी की रैली में विपक्ष के कई बड़े नेताओं के शामिल होने की उम्मीद है. लालू इस रैली के माध्यम से देशभर के विपक्षी नेताओं को एकजुटकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मोर्चा बनाने की तैयारी कर रहे हैं.

इसको देखते हुए भाजपा ने लालू को उनके ही गढ़ में चुनौती देने की रणनीति बनाई है. इसके लिए पार्टी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को आगे किया है.

बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने भाजपा नेताओं के दौरे की पुष्टि करते हुए कहा है कि पार्टी के प्रमुख नेता 25 मई से 15 जून के मध्य राज्य में आएंगे. बिहार के दौरा करने वालों में यूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ के अलावा केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति भी होंगी.

हालांकि ये भी कहा जा रहा है कि इन नेताओं के जरिए पार्टी बिहार में मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने पर जनता को 3 साल में किए गए केंद्र के कामों की जानकारी देंगे.

लेकिन योगी की बिहार यात्रा को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं भाजपा योगी के जरिए बिहार में अपना दबदबा कायम करना चाहती है.

हालांकि शुरू में मीडिया में खबरें आई थीं कि योगी बिहार अपने संगठन हिंदू युवा वाहिनी के विस्तार के लिए जा रहे हैं. लेकिन योगी की बिहार यात्रा की असलियत अब खुलकर सामने आ रही है.

जानकारों का मानना है कि भाजपा योगी जरिए बिहार में हिंदू वोटों को अभी से लामबंद करने कोशिश में है. यही कारण है कि योगी की बिहार यात्रा ने अभी से विपक्षी खेमे में खलबली मचा दी है.

इससे सबसे अधिक परेशान लालू प्रसाद यादव है. उनको लगता है कि वर्तमान में बिहार में जेडीयू और आरजेडी के बीच गंठबंधन को लेकर जो हालात है उसमें भाजपा लाभ उठा सकती है.

ये है योगी की बिहार यात्रा का मकसद – वहीं दूसरी ओर विपक्ष भले ही योगी की यात्रा को तवज्जों न देता दिखाई पड़ रहा हो लेकिन वह अंदर से काफी डरा हुआ है.

Don't Miss! random posts ..