ENG | HINDI

हर देवी देवता को प्रिय लेकिन भगवान् शिव की पूजा में क्यों निषेध है शंख!

lord shiva worship

कृष्णकवच और तुलसी का शील भंग होने की वजह से अब दैत्यराज शंखचूड़ को मारने में शिव को कोई मुश्किल नहीं हुई.

shiva-worship

शंखचूड़ की मृत्यु के बाद उसके शरीर की राख से शंख की उत्त्पति हुई. विष्णु के वरदान की वजह से शंखचूड़ का जन्म हुआ था इसलिए विष्णु और लक्ष्मी को शंख प्रिय होता है और इन दोनों तथा अन्य देवी देवताओं के पूजन में शंख को पवित्र माना जाता है.

भगवान् शिव ने शंखचूड़ का वध किया था इसलिए शिव की उपासना में शंख का उपयोग वर्जित है.

1 2 3 4 5 6 7

Don't Miss! random posts ..