ENG | HINDI

क्यों मंगलवार को की जाती है बजरंगबली की पूजा?

बजरंगबली की पूजा

वैसे तो आप संकटमोचन बजरंगबली की पूजा कभी भी कर सकते हैं, लेकिन कहा जाता है कि मंगलवार को हनुमान जी की पूजा से विशेष फल की प्राप्ति होती है.

मंगलवार को बजरंग बली का दिन कहा जाता है. इस दिन लाल सिंदूर चढ़ाकर पूजा करने से भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी होती है.

मंगलवार को हनुमान जी का वार माना जाता है, क्योंकि मंगलवार के दिन हनुमान जी का जन्म हुआ था. उस दिन बजरंगबली की पूजा करने से सभी प्रकार के कष्ट और क्लेशों से मुक्ति मिलती है.

ऐसे करें पूजा

हर मंगलवार को हनुमानजी को चोला, सिंदूर और चमेली का तेल चढ़ाना चाहिए. ऐसा करने से बजरंग बली जल्दी प्रसन्न होते हैं, क्योंकि सिंदूर और चमेली का तेल हनुमानजी को बहुत पसंद है. मंगलवार के दिन सुबह नहाने के बाद बड़ के पेड़ का एक पत्ता तोड़कर इसे साफ पानी से धो लें और इस पत्ते को कुछ देर हनुमानजी की मूर्ति के सामने रखें. फिर इस पर केसर से श्रीराम लिखें. अब इस पत्ते को अपने पर्स में रख लें. ऐसा करने से आपके पर्स में बरकत होगी. यह पत्ता पूरी तरह से सूख जाए तो इस पत्ते को नदी में बहा दें और इसी प्रकार से दूसरा पत्त पर्स में रख लें.

जिस व्यक्ति का मंगल भारी हो उसे लाल मसूर की दाल किसी जरूरतमंद व्यक्ति को दान देना चाहिए इससे मंगल दोष हो तो वो दूर होता है.

शिव का अवतार

हनुमानजी को भगवान शिव का अवतार माना जाता है. ऐसे में अगर शिवलिंग पर मंगलवार को लाल फूल चढ़ाया जाए तो हनुमाजी की कृपा बनी रहती है. साथ ही शिवलिंग पर लाल फूल चढ़ाने से मंगल दोष भी खत्म होता है. मंगलवार को हनुमानजी के सामने दीपक जलाएं और हनुमान चालीसा का पाठ करें. मंगलवार को मछलियों को आटे की गोलियां बनाकर खिलाना न भूलें.

बजरंगबली की पूजा के साथ ये उपाय करने से जीवन में सारे कष्ट दूर होते है – हर मंगलवार इसी तरह बजरंगबली की पूजा करने से वो आपके सारे संकट दूर कर देंगे.

Don't Miss! random posts ..