ENG | HINDI

इस एक शख्स की वजह से आशा पारेख ने अब तक शादी नहीं की !

आशा पारेख

किसी ने सच ही कहा है कि प्यार का नाम जुदाई है. सच्चा प्यार वहीं है, जिसमें जुदाई हो.

अपने ज़माने की मशहूर अदाकारा, जिनके सामने बड़े-बड़े अभिनेता एक्सप्रेशन के मामले में फीके पड़ जाते थे, जिसे बॉलीवुड की हिट गर्ल कहा जाता था, उसकी पर्सनल लाइफ कुछ ठीक नहीं.

आम लड़कियों की तरह उसने भी प्यार किया, लेकिन प्यार में कोई शर्त नहीं रखी.

जी हां, हम बात कर रहे हैं आशा पारेख की.

हाल ही में उनकी आत्मकथा लॉन्च हुई. उसमें उन्होंने अपनी निजी ज़िंदगी की कई बातें शेयर की हैं. किताब के ख़ास पन्नों में उन्होंने अपने प्यार का ज़िक्र भी किया है. उस प्यार का जिसके साथ कभी वो रह नहीं पाईं, उससे शादी नहीं कर पाईं और ताउम्र शादी नहीं कीं. ये होता है सच्चा प्यार. बॉलीवुड में रहने के बाद भी उन्होंने किसी दूसरे हीरो से मोहब्बत नहीं किया और न ही किसी बिज़नेसमैन से शादी करके अपना घर बसाया.

आशा पारेख

नासिर हुसैन की फिल्म दिल देके देखो से अपनी फिल्मी पारी की शुरुआत करनेवाली आशा पारेख नासिर साहब को ही अपना दिल दे बैठीं. वो उनसे मोहब्बत करने लगीं और नासिर साहब भी. अपनी आत्मकथा का विमोचन करते हुए आशा पारेख ने कहा कि कभी भी घर तोड़ने वाली नहीं रही. मेरे और नासिर साहब के परिवार के बीच कभी कोई अनबन नहीं हुई. पुस्तक जारी होने के समय नुसरत (हुसैन की बेटी) और इमरान खान (नाती) को देखकर मुझे बहुत खुशी हुई. मुझे लगता है कि मैंने अपने जीवन को गरिमापूर्ण रूप से और बिना किसी को तकलीफ पहुंचाए जिया है.

आशा पारेख ने कहा कि नासिर हुसैन के अलावा उन्हें कोई अच्छा ही नहीं लगा, चुंकि नासिर पहले से ही शादीशुदा थे, इसलिए आशा ने कभी उनसे शादी करने के लिए नहीं कहा और न ही उनके परिवार को तोड़ने के लिए कहा. ये होती है सच्ची मोहब्बत.

हम आपको बता दें कि नासिर हुसैन आमिर ख़ान के बड़े पिता थे. उनके पिता ताहिर हुसैन और नासिर हुसैन दोनों फिल्म प्रोड्यूसर थे. आशा पारेख ने कहा कि वो किसी और मर्द को कभी नहीं चाहीं और यही कारण रहा कि वो आजतक शादी नहीं की. वो नासिर के यादों को बांटना नहीं चाहती थीं. इस क़दर मोहब्बत तो सिर्फ़ फिल्मों में ही होती है.

Don't Miss! random posts ..