ENG | HINDI

दो देशी और दो विदेशी, कौन होगा इनमें से अगला टीम इंडिया का कोच ?

cricket-feature

विश्व कप के बाद डंकन फ्लेचर का कार्यकाल टीम इंडिया के पद से खत्म हो चुका है और अब एक नये कोच की तलाश बीसीसीआई बोर्ड कर रहा है.

अभी बोर्ड के अध्यक्ष जगमोहन डालमिया हैं और इनके लिए कहाँ जाता है कि डालमिया जी अपने देश के लोगों को सबसे पहले अहमियत देते हैं.

अभी संभावनाओं की लिस्ट कुछ समय पहले तक तो काफी लम्बी थी, रवि शास्त्री, संजय बांगड़, सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, माइकल हसी और स्टीफन फ्लेमिंग ये सभी महीने पहले तक तो चर्चा में थे.

किन्तु अभी मुख्य रूप से चार ही नामों पर चर्चा की जा रही है. अभी सूत्रों के हवाले यह मुख्य नाम सामने आ रहे हैं जो भारतीय क्रिकेट टीम के अगले कोच बन सकते हैं, आइये नजर डालते हैं उन नामों पर

  1. सौरव गांगुली

इनका नाम अब तक लिस्ट में सबसे ऊपर बना हुआ है. टीम इंडिया के बेहतरीन कप्तानों में स्थान रखने वाले गांगुली को अब टीम के कोच पद की जिम्मेदारी भी दी जा सकती है. बात केवल और केवल सौरभ गांगुली पर रूकी हुई है कि एक बार वह हाँ बोल देते हैं तो इसकी आधिकारिक घोषणा जल्द कर दी जाएगी.

किन्तु दिक्कत यह है कि गांगुली अभी बहुत से चैनल्स के साथ जुड़े हुए हैं और बंगाल की राजनीति में प्रवेश करने का भी ऐलान भी हो चुका है.

वैसे सौरव गांगुली में टीम को जोड़कर रखने की काबिलियत तो है. एक दौर था जब इन्हीं ने अपने दम पर टीम इंडिया को एक नई टीम बनाकर, सबके सामने पेश किया था. सहवाग, जहीर, हरभजन, गंभीर और युवराज सिंह जैसे खिलाडियों की प्रतिभा को इन्होनें पहचाना था.

saurav-ganguly

  1. राहुल द्रविड़

कभी टीम इंडिया की मजबूत दिवार कहे जाने वाले शांत और काबिल, राहुल द्रविड़ को टीम इंडिया बहुत मिस कर रही है. राहुल द्रविड़ के नाम पर भी बैठकों में चर्चा की जा रही है. अभी राहुल द्रविड़ आईपीएल में राजस्थान टीम से जुड़े हुए हैं. और वहां पर इनका कोच के पद पर प्रदर्शन काफी अच्छा ही चल रहा है.

राहुल द्रविड़ क्योंकि तकनीकी रूप से काफी मजबूत हैं और टीम इंडिया का प्रदर्शन विदेशों में बहुत ही खराब चल रहा है ऐसे में द्रविड़ के रिकॉर्ड को देखकर, बोर्ड सदस्यों को यह लगता है कि खिलाडियों की तकनीक को यही व्यक्ति अच्छा कर सकता है और द्रविड़ के व्यवहार एवम चरित्र के कारण, शायद की टीम इंडिया का कोई खिलाड़ी होगा जो इनके नाम पर आपत्ति रखता होगा.

अब इन देशी नामों के बाद बोर्ड के पास दो विदेशी नाम भी है जिनको इंटरव्यू के लिए बुलाया जा सकता है.

rahul-dravid

  1. माइकल हसी

ऑस्ट्रेलिया टीम के पूर्व खिलाड़ी माइकल हसी के नाम पर भी चर्चा चल रही है. सभी को पता है कि यह विश्व का एक नामी और बेहतरीन खिलाड़ी रह चुका है. दिमाग और ताकत का प्रयोग किस तरह खेल में किया जाता है इस बात को यह बखूबी जानते हैं.

वर्ष 2013 में ऑस्ट्रेलिया की ओर से अंतिम अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले हसी को इस बार चेन्नई की टीम ने अपने साथ रखा है.

आईपीएल की वजह से ही इन्होनें भारतीय टीम को नजदीक से देखा और समझा है.

michael-hussy

  1. स्टीफन फ्लेमिंग

स्टीफन फ्लेमिंग न्यूज़ीलैंड के लिए खेलते थे और अपने टीम के एक सफल कप्तान भी चुके हैं. अभी अगर बोर्ड इनके नाम पर चर्चा कर रहा है तो वह बस इसलिए क्योंकि इनकी क्षमता का पता आईपीएल में पता लगता है जब चेन्नई के लिए कोच पद पर रहते हुए इनकी टीम ने अभी तक हुए सभी आईपीएल में शानदार प्रदर्शन किया है.

कप्तान धोनी से इनकी दोस्ती काफी अच्छी है और जो खिलाड़ी अभी टीम इंडिया में खेलते हैं उनमें से बहुत से खिलाडियों के साथ आईपीएल में फ्लेमिंग रह चुके हैं. इनके आईपीएल अनुभव के कारण ही इनका नाम विदेशी कोच में सबसे ऊपर बना हुआ है.

stephen_fleming

अब देखना यह है की भारतीय क्रिकेट बोर्ड टीम के लिए किसे बेहतर समझता है एक देशी कोच को या फिर से एक विदेशी कोच के हाथों में टीम की कमान दे दी जाएगी. जल्द ही इस बात का फैसला हो जायेगा कि टीम का अगला कोच कौन बनेगा.

आपकी राय का इंतज़ार रहेगा.

Don't Miss! random posts ..