ENG | HINDI

जब कोई लड़का पहली बार किसी लड़की का हाथ अपने हाथों में लेता है तो क्या सोचती है लड़की ?

है एहसास ये बहुत ख़ास जब तुम हाथों में लेते हो मेरा हाथ. तुम्हारे हाथों से मैं तुम्हारे दिल की बात जान जाती हूँ, बस एक इशारे में तुम्हें पहचान जाती हूँ. सच कहा है किसी ने प्यार बहुत ख़ास होता है. इस प्यार को पाने के लिए लड़के और लड़कियां न जाने कितने समय तक यूँ ही तलाश करते रहते हैं. ये तलाश किसी ख़ास पर जाकर पूरी होती है. प्यार का सबसे ख़ास पल होता है जब लड़का लड़की का हाथ अपने हाथ में लेता है. उस पल में लड़कियां क्या सोचती हैं? आइए जानते हैं.

पार्क में घूमते हुए जब अचानक से लड़का अपने गर्लफ्रेंड का हाथ पकड़ लेता है तो लड़की सहम जताई है. उसके भीतर ७ समंदर की लहरें हिलोरें मारने लगती हैं. लड़कियां उस पल में जैसे खो जाना चाहती हैं. उस पल को एन्जॉय करने के लिए उसी पल ठहर जाना चाहती हैं. ऐसा लगता है मानो लाइफ ही बदल गई. सबकुछ इतना अच्छा लगने लगा की जैसे दुनिया हसीं लगने लगी.

ऑफिस कलीग से रोमांस

जब भी एक लड़का मजबूती से किसी लड़की का हाथ पकड़ता है तो उस समय लड़की गर्व के साथ ही प्यार से भी भर जाती है. उस समय वो दुनिया की सबसे अमीर और खुशनसीब लड़की समझती है. उसे लगता है कि उसके जैसा और कोई नहीं. उसके हमसफ़र के जैसा और कोई नहीं. आज उसे भगवान् भी आकर अगर कुछ कहें तो उन्हें भी वो नहीं सुनेगी. आज वो इतनी खुश है कि की उसे दुनिया की परवाह नहीं. उसके कदमों में जहाँ समां गया है.

जब ये लड़के रोड क्रॉस करते हुए लड़की का हाथ पकड़ते हैं तो उन्हें लगता है कि अब उन्हें अपनी केयर करने की ज़रूरत नहीं. क्योंकि उनके सांसों का हमसफ़र मिल गया है अब. उस समय वो सबसे ज्यादा केयरलेस हो जाती हैं. उन्हें एहसास होता है कि काश ये रोड और चौड़ा हो जाए या इन गाड़ियों की रफ़्तार और बढ़ जाए ताकि ये साथ न छूटे. यूँ ही लड़का उनका हाथ मजबूती से पकडे रहे और वो ऐसे ही अल्हण बनी रहें.

नफरत को मोहब्बत में बदलना

जिन लड़कियों के बॉयफ्रेंड उनका हाथ हमेशा पकडे रहते हैं वो लड़कियां थोड़ी मासूम सी हो जताई हैं. उन्हें इस ज़माने की कोई खबर नहीं रहती. वो इतनी मासूम हो जाती हैं की सबकुछ उसी पर छोड़ देती हैं. जब कॉलेज कैम्पस में घुसने से पहले लड़का अपनी गर्लफ्रेंड का हतः पकड़ता है तो लकड़ी सातवें आसमान पर होती है. वो अपनी सखियों को दिखा देना चाहती है कि देखो क्या है कोई इसके जैसा. इतना प्यार करने वाला. लड़कियां इस समय भी खुद को दुनिया की सबसे अमीर लड़की मानती हैं. इस समय उन्हें पढ़ाई का भी गम नहीं रहता. रिपोर्ट कार्ड पर कितने नम्बर आएँगे वो भूल जाती हैं क्योंकि इस समय वो अपने पार्टनर को १०० नम्बर देती हैं और खुद को खुशनसीब समझती हैं.

जब कभी लकड़ों के छेड़ने पर लड़का अपनी गर्लफ्रेंड का हाथ पकड़ता है तो लड़की का आत्मविश्वास और बढ़ जाता है. वो सोचने लगती है की आज तो वो जैसे सबको मार ही देगी.

लिव इन रिलेशनशिप की शुरुआत

एक हतः पकड़ने से लड़कियां कितने आगे बढ़ जाती हैं. जब लड़के उन्हें अपने जीवन में शामिल करते हैं तो लड़कियां खुद को बहुत ही ख़ास समझती हैं.

Don't Miss! random posts ..