ENG | HINDI

तेजी से मोटापा कम करने के लिए डाइट में क्या और कितना खाना चाहिए

मोटापा कम करने के लिए डाइट

मोटापा कम करने के लिए डाइट – मोटापा आज हर किसी की समस्या बना हुआ है। जो लोग कम खाते हैं वे भी मोटापे के शिकार हैं ऐसा क्यों? क्योंकि वे सही डाइट फॉलो नहीं करते हैं।

मोटापा आज हर किसी की समस्या बना हुआ है। जो लोग कम खाते हैं वे भी मोटापे के शिकार हैं। बच्चे से लेकर बूढ़े तक मोटापे के शिकार हैं। सबसे हैरत की बात है कि कॉलेज जाने वाले यूथ भी माटोपे के शिकार हैं।

जबकि अक्सर माना जाता है कि कॉलेज जाने वाले यूथ पतले होते हैं क्योंकि उन्हें अपनी फिटनेस का काफी ख्याल रहता है औऱ वह अपने दोस्तों के सामने फिट भी दिखना चाहते हैं।

मोटापा कम करने के लिए डाइट –

कम खाते हैं लोग, फिर भी मोटे

लेकिन आज के जमाने में ऐसा नहीं है। ऐसा क्यों? क्योंकि अब लोग सही डाइट फॉलो नहीं करते हैं। आपने अक्सर नोटिस किया होगा कि लोग ज्यादा खाते भी नहीं है तो भी वे मोटे होते हैं। ऐसे में उन्हें तो यह भी नहीं बोल सकते कि खाना कम कर दें। इसका तो सीधा सा मतलब यही निकलता है कि वे अपनी डाइट में कुछ भी खा लेते हैं और हेल्दी डाइट नहीं ले रहे हैं।

मोटापा कम करने के लिए डाइट

से में क्या किया जाए?

ऐसे में इस लेख को पढ़ें और जाने कि तेजी से मोटापा कम करने के लिए डाइट में क्या और कितना खाना चाहिए। इसके लिए सबसे पहले वजन कम करने के प्रोसेस को समझने की जरूरत है।

वजन कम होने का प्रोसेस

मोटापा कम करने के लिए डाइट

पेट में चर्बी की एक लेयर तीन दिन में बनती है और इसे खत्म करने में छह से सात दिन तक लगता है। ऐसे में आप समझ सकते हैं कि जो चर्बी तीन दिन में बनती है उसे कम करने में दोगुना समय लगता है। हम जो कुछ भी खाते हैं उससे हमें calories मिलती है। कैलोरीज़ हमें carbohydrates, protein, fat तीनों से मिलती है जो आलू, मीठे और जंक फूड में अधिक होती है। इसलिए तो घर की दाल-रोटी खूब खाने के बावजूद भी लोग मोटे नहीं होते हैं जबकि बाहर का जंक फूड खाने से लोग एक बारे में मोटे हो जाते हैं।

700 कैलोरीज़ से ज्यादा ना लें

वजन बढ़ाने में सबसे बड़ा रोल कार्ब और फैट का होता है। भले ही आप कितनी भी तगड़ी डाइट फॉलो कर लें… लेकिन अगर आप अपने डाइट में 700 कैलोरीज़ रोज लेते हैं तो आपका मोटापा बढ़ना तय है।

होती है कई सारी बीमारियां

मोटापा कम करने के लिए डाइट

मोटापा बढ़ने की वजह से की सारी बीमारियां भी होती हैं। इसकी वजह से शरीर में कमजोर डाइजेशन, खाने के तुरंत बाद पानी पीना, कम नींद, किसी दवा का असर या हार्मोन के इंबैलेंस होने की समस्या होती है।

अपने शरीर के अनुसार लें कैलेरी

अगर आप कसरत नहीं करते हैं तो आपका काम पूरे दिन में 2000 से 2200 calories में चल जाएगा। अगर आप मेहनत का काम करते हैं या अच्छे से जिम जाते हैं तो आपको 2400 से 2800 कैलोरी की जरूरत पड़ेगी। इसी तरह से जो महिलाएं जिम वगैरा नहीं जातीं उनका काम 1800 कैलोरी में चल जाता है। जो महिलाएं भाग दौड़ वाला या मेहनत का काम करती हैं उन्हें 2200 कैलोरी की जरूरत पड़ती है। कॉलेज जाने वाली एक लड़की को हर दिन करीब 2000 कैलोरी की जरूरत होती है। यहां एक बात का और ध्यान रखें कि इस कैलकुलेशन में हमने 18 से 35 साल तक के ऐज ग्रुप को शामिल किया है।

जैसे कि 25 साल के एक यूथ का वजन 70 किलो है और वह कसरत नहीं करता है तो उसे 440 कैलोरी प्रोटीन से, 330 कैलोरी कार्ब से और 330 कैलोरी फैट से हासिल करनी है।

एक ग्राम प्रोटीन में होती है चार कैलोरी तो 440 कैलोरी के लिए जरूरत होगी – 440/4 = 110
एक ग्राम कार्ब में होती है चार कैलोरी तो 330 कैलोरी के लिए जरूरत होगी 330/4 = 82 ग्राम लगभग
एक ग्राम फैट में होती है 9 कैलोरी तो 330 कैलोरी के लिए जरूरत होगी 330/4 = 82 ग्राम लगभग

मोटापा कम करने के लिए डाइट

जंक फूड कम खाएं

एक बार में जंक फूड खाना ना छोड़ें। क्योंकि जंक फूड की अगर आपको आदत है तो वह आपसे छूटेगी नहीं और आप और अधिक जंक फूड खाने लगेंगे। इसलिए जंक फूड महीने में दो बार खाएं और घर का खाना ही अधिक से अधिक खाने की कोशिश करें। फल अधिक खाएं। जूस पिएं।

ये है मोटापा कम करने के लिए डाइट – तो इसके कैल्कुलेशन के अनुसार डाइट फॉलो करें और खुद के वजन को कंट्रोल करें।

Don't Miss! random posts ..