ENG | HINDI

जानिए मनोकामना अनुसार आपको कौन-से भगवान की पूजा करनी चाहिए

हम अपनी सभी तरह की मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए भगवान से प्रार्थना करते हैं। मान्‍यता है कि ईश्‍वर की भक्‍ति करने से जीवन की सारी मनोकामनाएं पूर्ण हो सकती हैं और सभी समस्‍याओं का अंत भी हो सकता है। वैसे तो किसी भी देवी-देवता की पूजा करने से सभी इच्‍छाओं की पूर्ति होना मुश्किल माना गया है लेकिन शास्‍त्रों के अनुसार अलग-अलग मनोकामनाओं के लिए अलग-अलग देवी-देवताओं के पूजन का विधान बताया गया है।

शास्‍त्रों में इस बात का उल्‍लेख किया गया है कि प्रत्‍येक देवी-देवता की पूजा करने से किसी विशेष मनोकामना की पूर्ति होती है। जैसे कि आपको अपनी मनोकामना के अनुसार देवी-देवता की पूजा करनी होगी। इससे आपकी इच्‍छा की पूर्ति शीघ्र हो जाती है।

तो चलिए जानते हैं कि किस मनोकामना की पूर्ति के लिए आपको किस देवी-देवता की पूजा करनी चाहिए।

– विवाह में देरी आ रही है या किसी कारण से आपका विवाह नहीं हो पा रहा है या आपके वैवाहिक जीवन में समस्‍याएं आ रही हैं तो आपको इसके निराकरण के लिए शिव-पार्वती, लक्ष्‍मी नारायण, सीता राम, राधा कृष्‍ण और श्रीगणेश की पूजा करनी चाहिए।

– धन से जुड़ी किसी भी तरह की मुश्किल, कर्ज या दरिद्रता से बचने के लिए महालक्ष्‍मी, कुबेर देवता और भगवान विष्‍णु की पूजा करनी चाहिए।

– कई प्रयासों और बहुत मेहनत करने के बाद भी आपको अपने कार्यों में सफलता नहीं मिल पा रही है तो आपको अपने किसी भी कार्य की शुरुआत श्रीगणेश के पूजन के साथ ही करें। गणेश जी के आशीर्वाद से आपको अपने हर कार्य में सफलता मिलेगी।

– भूत-प्रेत या भय आदि के डर से मुक्‍ति पाने के लिए श्री राम के परम भक्‍त हनुमान जी की पूजा करें। हनुमान जी का ध्‍यान करने से आपके सभी प्रकार के भय दूर होंगें।

– अगर वैवाहिक जीवन अच्‍छा नहीं चल रहा है या पति-पत्‍नी का तलाक होने वाला है और आप इस रिश्‍ते को संभालना चाहते हैं या एक-दूसरे से बिछड़ गए हैं और मिलना चाहते हैं तो आपको हनुमान जी की आराधना करनी चाहिए। श्रीराम और माता सीता का मिलन भी बजरंग बली ने ही करवाया था। इनकी पूजा से विवाहित जीवन की सभी तरह की समस्‍याएं दूर होती हैं।

– अगर कोई बच्‍चा पढ़ाई में कमज़ोर है उसे बहुत मेहनत करने के बाद परीक्षा में सफलता नहीं मिलती है तो आपको मां सरस्‍वती का ध्‍यान करना चाहिए। इसके अलावा बल, बुद्धि एवं विद्या के लिए हनुमान जी और भगवान गणेश का पूजन करना चाहिए।

– अगर आपको किसी गरीब व्‍यक्‍ति की वजह से परेशानी हो रही है तो शनि देव, राहू और केतु से जुड़ी वस्‍तुओं का दान करें और इनकी पूजा करें।

– भूमि से संबंधित किसी भी तरह की समस्‍या या परेशानी को दूर करने के लिए मंगल देव की पूजा करें।

– अगर किसी के विवाह में देरी आ रही है तो उसे विवाह के कारण गह बृहस्‍पति की आराधना करनी चाहिए और उनसे संबंधित उपाय करने चाहिए।

अब तो आप जान ही गए होंगें कि मनोकामना अनुसार आपको किसी देवी-देवता की पूजा करनी चाहिए। इन नियमों का पालन कर आप अपने जीवन को सुखी और समृद्ध बना सकते हैं।

Don't Miss! random posts ..