ENG | HINDI

12वीं के बाद इस तरह से करें करियर से संबंधित कोर्स का चुनाव !

करियर से संबंधित कोर्स का चुनाव

12वीं क्लास की परीक्षा के बाद अक्सर छात्र इस बात को लेकर परेशान नजर आते हैं कि वो किस क्षेत्र में जाएं ताकि अपना सुनहरा भविष्य बना सकें.

छात्र अक्सर इस बात को लेकर कंफ्यूज दिखाई देते हैं कि वो इंजीनियरिंग के क्षेत्र में जाएं या मेडिकल में, सिविल सर्विसेस की ओर ध्यान दें या फिर किसी बिजनेस कोर्स का चुनाव करे.

अगर आप भी इसी तरह के सवालों को लेकर परेशान हैं तो फिर हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे टिप्स जिनपर गौर करके आप 12वीं के बाद अपने हिसाब से करियर से संबंधित कोर्स का चुनाव कर सकते हैं.

करियर से संबंधित कोर्स का चुनाव –

1- सबसे पहले अपना लक्ष्य निर्धारित करें

आपको सबसे पहले ये तय कर लेना चाहिए कि आप किस क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं क्योंकि जब आपका लक्ष्य निर्धारित होगा तभी आप सही दिशा में कोशिश कर सकते हैं नहीं तो आपके मन का कंफ्यूजन आपको दिशाहीन कर सकता है.

जहां तक सही कोर्स चुनने का सवाल है तो आपको ज्यादा जल्दी नौकरी मिलनेवाले क्षेत्रों पर अपना ध्यान केंद्रित करना होगा.  

2- अपने करियर को लेकर प्लानिंग करें

आज हर फिल्ड में कॉम्पीटीशन बढ़ गया है. करियर से संबंधित विषयों में दाखिले के लिए लिमिटेड सीट्स होती हैं ऐसे में हो सकता कि आपको आपके पसंद के कोर्स या कॉलेज में दाखिला ना मिले.

ऐसे हालात के लिए ये बेहद जरूरी है कि आप एक अलग से योजना तैयार रखें. आप ऑप्शन्स के लिए करियर काउंसलर, शिक्षकों या पुराने छात्रों की मदद भी ले सकते हैं.

3- सोच-समझकर विषय का करें चुनाव

12वीं के बाद करियर से संबंधित कोर्स का चुनाव करना पूरी तरह से छात्र के इंटरेस्ट और ऑप्शन्स पर निर्भर करता है. अगर आप कलाकार या रचनाशील हैं तो विज्ञापन, फैशन डिजाइनिंग जैसे कोर्सेस चुन सकते हैं.

अगर आपका दिमाग विश्लेषक है तो इसके लिए आप इंजीनियरिंग या टेक्नोलॉजी जैसे क्षेत्रों से संबंधित विषयों को चुन सकते हैं.

यहां बहुत सारे करियर से संबंधित कोर्सेज भी हैं, जिन्हें करने के बाद आप करियर में ऊंची उड़ान भर सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको सोच-समझकर विषय का चुनाव करना होगा.

कोर्स का चुनाव करते वक्त इन बातों का रखें खास ख्याल

1- अपने पसंदीदा विषय को दें अहमियत

अपनी रूचि के हिसाब से अपने पसंदीदा विषय को ध्यान में रखकर अपने लिए करियर से संबंधित कोर्स का चुनाव करें. ऐसे में आपको दूसरों की नकल से बचना चाहिए जैसे कि आपका दोस्त कौन सा कोर्स करने जा रहा है इस बात पर ध्यान ना दें.

2- अपना मूल्यांकन खुद करें

किसी भी कोर्स का चुनाव करने से पहले आपको अपने आप का मूल्यांकन करना चाहिए कि आपकी रूचि किस काम में ज्यादा है. उन सारे ऑप्शन्स की लिस्ट बनाएं जिनमें आप खुद को बेहतर साबित कर सकते हैं.

3- बेहतर विकल्प की तलाश करें

 एक वक्त ऐसा था जब छात्रों के लिए विकल्प सीमित हुआ करते थे. विज्ञान के छात्रों के पास सिर्फ मेडिकल या इंजीनियरिंग के विकल्प होते थे. लेकिन आज आपके सामने विकल्पों की भरमार है.

आप बायोटेक्नोलॉजी, बायोइंजीनियरिंग, फिजियोथेरेपी, ऑक्यपेशनल थेरेपी, मेडिकल ट्रांसक्रिप्शन जैसे कोर्सेज कर सकते हैं.

इसके साथ ही आर्ट्स से 12वीं करने के बाद बिजनेस या होटल मैनेजमेंट, फैशन डिजाइनिंग, मर्चेंडाइजिंग और स्टाइलिंग का कोर्स कर सकते हैं.

एडमिशन से पहले ध्यान रखनेवाली बातें

आजकल संस्थानों में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा होती है लेकिन सरकारी और प्राइवेट संस्थानों में प्रवेश लेने से पहले इन बातों पर गौर जरूर करें.

– सबसे पहले इस बात की जानकारी लेनी चाहिए कि आप जिस संस्थान में दाखिला लेने की सोच रहे हैं उसे मान्यता मिली है या नहीं.

आप जिस फैकल्टी में एडमिशन लेने वाले हैं उसकी गुणवत्ता को जांच लें. इसके साथ ही प्रोफेसर, लेक्चरर, असिस्टेंट प्रोफेसर और पाठ्यक्रम में विविधता जैसी बातों की जानकारी जुटा लें.

आप जिस संस्थान में एडमिशन लेने वाले हैं उसकी मूलभूत सुविधाओं के बारे में जान लें और इस बात को सुनिश्चित कर लें कि उस संस्थान में प्लेसमेंट या नौकरी मिलने का प्रतिशत कितना है.

इस तरह से आप करियर से संबंधित कोर्स का चुनाव कर सकते है – बहरहाल अगर आप इन छोटी-छोटी मगर काम की बातों को ध्यान में रखकर 12वीं के बाद करियर से संबंधित कोर्स का चुनाव करेंगे तो आप अपने लक्ष्य से नहीं भटकेंगे और आपको सफलता जरूर मिलेगी.

Don't Miss! random posts ..