ENG | HINDI

डर्टी पिक्चर का प्रीमियर देखने के बाद क्या किया था विद्या बालन के पिता ने ?

डर्टी पिक्चर

डर्टी पिक्चर – संघर्ष क्या होता है, ये विद्या बालन से बेहतर भला और कौन जा सकता है.

प्योर साउथ इंडियन फैमली से तालुक रखने वाली विद्या को जीवन में बहुत संघर्ष करना पड़ा.

बचपन से ही एक एक हीरोइन का सपना देखने वाली विद्या का जब फ़िल्मी सफ़र शुरू हुआ तो उन्हें कई रिजेक्शन झेलने पड़ें. लोगों ने उनके चेहरे और बॉडी का मज़ाक उड़ाया. कुछ ने तो यहाँ तक कह दिया कि विद्या को फिल्मों में रोल करने के अलावा और कुछ भी कर लेना चाहिए.

विद्या की हिम्मत ही थी  कि वो कभी हार नहीं मानीं. जिसका नतीजा आज हम सबके सामने है.

विद्या ने कई फिल्मों में काम किया. विद्या ने बाकी हीरोइनों से अलग अपनी पहचान बनाई और बॉलीवुड पर छाप छोड़ा. विद्या जैसी बोल्ड फ़िल्में करती हैं उसे फैमली के साथ बैठकर देखने में थोड़ी झिझक होती है.

ऐसे में जब डर्टी पिक्चर रिलीज़ होने वाली थी, तो विद्या ने अपने पिता को ये फिल्म देखने के लिए कहा. उनके पिता विद्या के साथ फिल्म डर्टी पिक्चर का प्रीमियर देखने पहुंचे. फिल्म में कई बोल्ड सीन थे. विद्या भी उस समय पापा के बगल में ही बैठी थीं. विद्या को थोडा अटपटा लगने लगा. वाजिब था ऐसा लगना लेकिन जैस ही फिल्म ख़त्म हुई, विद्या के पापा को देखकर लोगों के होश उड़ गए.

खुद विद्या को भी विश्वास नहीं था की उनके पापा कुछ ऐसा कहेंगे और करेंगे. विद्या के पापा खड़े हुए औए जोर-जोर से ताली बजाने लगें. उन्होंने विद्या से कहा कि वेल Done. बहुत अच्छा. विद्या की ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा. बाद में विद्या के पापा ने कहा कि फिल्म थोड़ी बोल्ड ज़रूर है मगर कहानी बहुत अच्छी है और तुम्हारा परफोर्मेंस भी.

ऐसा बहुत कम होता है कि इस तरह से कोई तारीफ करे.

वो भी इतनी बोल्ड फिल्म देखने के बाद अपने बच्चे की तो बिलकुल भी नहीं. खैर विद्या ने अपने पापा की बात सुनी और उन्हें इस बात का एहसास हो गया था कि अब फिल्म को हिट होने से कोई नहीं रोक सकता.

Don't Miss! random posts ..