ENG | HINDI

फिल्म इंडस्ट्री ऐसे पेश आती है शादीशुदा हीरोइनों के साथ!- विद्या बालन का चौंका देनेवाला बयान!

vidya-balan

जितना ही बॉलीवुड अपनी फिल्मों, रंग-बिरंगे नाच-गानों के लिए जाना जाता है, उतना ही वो बदनाम है इंडस्ट्री में काम करने वालों के साथ हो रहे व्यवहार को लेकर|

कभी खबर आती है कि वक्त पर पैसा नहीं मिलने पर टेक्निशियन्स ने हड़ताल करने की धमकी दी है तो कभी सुनते हैं कि फलां लेखक कि कहानी चोरी हो गयी|

कभी कोई किसी की धुन चुराता है तो कोई पूरी की पूरी फिल्म ही टीप डालता है!

इन्हीं ख़बरों के बीच आया मशहूर हीरोइन विद्या बालन का अपनी अगली फिल्म हमारी अधूरी कहानी के सिलसिले में इंटरव्यू जिस में की बॉलीवुड के दोगलेपन की एक और परत दिखा दी है|

माना विद्या की पिछली दिनों आयीं कुछ फिल्में बॉक्स ऑफिस पर कमाल नहीं दिखा पायीं पर उसका यह मतलब नहीं कि आगे भी ऐसा ही होगा|

लेकिन विद्या बताती हैं कि किस तरह बॉलीवुड में शादीशुदा हीरोइन के लिए काम ढूंढ पाना बहुत ही मुश्किल है|

सोच के देखिये कि इतनी सफल हीरोइन भी अपनी फिल्म फ्लॉप होने के बाद यह नहीं सोचती कि शायद कहानी बुरी रही होगी या लोगों को मज़ा नहीं आया होगा पर वो यह सोचने पर मजबूर हो जाती है कि कहीं उसकी फिल्म इसलिए तो फ्लॉप नहीं हुई क्योंकि उसने शादी कर ली है?

हमें याद नहीं पड़ता कि किसी हीरो के दिमाग में ऐसा कोई ख्याल कभी भी आया होगा?

तो फिर हिरोइन्स के साथ यह भेद-भाव क्यों?

फिल्म का माप-दंड उसकी कहानी, संगीत, निर्देशन, गीत-संगीत और कलाकारों के अभिनय पर तय होना चाहिए, ना कि उनकी ज़ाती ज़िन्दगी पर!

पिछले कुछ सालों में चंद हिरोइन्स ने इस सोच के खिलाफ कदम उठाये हैं जैसे श्रीदेवी ने इंग्लिशविंग्लिश के ज़रिये नाम कमाया| काजोल शादी के बाद भी फिल्में करती हैं, चाहे दो-तीन साल में सिर्फ एक! अभी हाल ही में रानी मुख़र्जी ने भी मर्दानी में अच्छा नाम कमाया जो उनकी शादी के बाद ही रिलीज़ हुई थी!

पर यह सोच पूरी तरह से बदली नहीं है और बहुत वक़्त लगेगा इसे बदलने में| इस सफ़र में हमें उम्मीद है कि दिग्गज सितारा जैसे की विद्या और उनके जैसी और हिरोइन्स अपना हौंसला ना छोड़ें!

उनके फैन होने के नाते हम कहना चाहते हैं कि इस बात से कोई फ़र्क नहीं पड़ता कि वह कुंवारी हैं या शादी-शुदा| बस, अच्छी फिल्म बनाएँ और हमें पैसा वसूल एंटरटेनमेंट दें!

Don't Miss! random posts ..