ENG | HINDI

इस गरीब किसान के लङके को फ्री में पढाएगी अमेरिका की फेमस यूनिवर्सिटी

यूपी के मेरठ के रहने वाले निश्चल

यूपी के मेरठ के रहने वाले निश्चल – दुनिया के सबसे फेमस काॅलेजस में से एक है अमेरिका वेलेस्ले काॅलेज, जिसमें एडमिशन के लिए दुनियाभर के स्टूडेंट्स हर साल ट्राई करते है लेकिन मौका सिर्फ कुछ को ही मिल पाता है ।

इस काॅलेज में पढने वाले स्टूडेंट्स का सालाना खर्चा 50 लाख रुपये आता है, जिसे भर पाना हर किसी के बस की बात नही है।

जब एक साल का खर्चा 50 लाख है तो यानि चार साल के कोर्स का खर्चा 2 करोङ रुपये हुआ । लेकिन आप सोच सकते है गरीब किसान का बेटा जिनके घर में दो वक्त के खाने के लिए पैसे भी मुश्किल से आते है । उसे वेलेस्ले  काॅलेज में पढने का मौका मिलेगा ।

लेकिन ऐसा हुआ है ।

2 करोङ की स्कॉलरशिप मिली मेरठ के इस लङके को

यूपी के मेरठ के रहने वाले निश्चल को वेलेस्ले काॅलेज में मुफ्त में शिक्षा पाने का मौका मिला है। निश्चल वेलेस्ले काॅलेज में चार साल का कोर्स करेगा । जिसमें  खर्च होने वाले 2 करोङ रुपये का खर्च काॅलेज उठाएगा । साथ ही निश्चल के रहने खाने पीने और इंडिया से अमेरिका की टिकट का खर्च भी काॅलेज ही करेगा।

घर में पैसो की मदद के लिए डिस्पेंसरी पर करता था पार्ट टाइम नौकरी

यूपी के मेरठ के रहने वाले निश्चल के पिता मेरठ के छोटे से किसान है जिनका पास तीन बीघा जमीन है वही परिवार में निश्चल के अलावा उसका एक भाई और दो बहनें ओर भी है। जिस वजह से घर का खर्च चलाना काफी मुश्किल होता है। घर की सालाना आय 1 लाख से भी कम है । निश्चल की मां हाउस वाइफ है । घर चलने में मदद करने के लिए निश्चल भी पढाई के साथ एक छोटी डिस्पेंसरी मे पार्ट टाइम नौकरी करता था। निश्चय का परिवार भले ही गरीब है लेकिन वो शिक्षा महत्व बहुत अच्छे सै जानते है जिस वजह से अपने बच्चों को पढाने की कोशिश की ।

छठी क्लास से स्कॉलरशिप से कर रहा है पढाई

निश्चल भी पढाई में बहुत अच्छा है निश्चल ने पांचवीं क्लास में स्काॅरलरशिप का एग्जाम दिया जिसके बाद उसका एडमिशन शिव नागर फाउंडेशन स्कूल में हो गया।  जहाँ एक लाख से कम आय वाले परिवारों के होनर बच्चों को जो उनका एग्जाम पास करते है उन्हे फ्री में 6वी से बारवी तक की इंग्लिश मीडियम में पढाई कराते है और दुनिया भर की 200 टाॅप यूनिर्वसटीज के एग्जाम के लिए तैयार कराते है ।

यूनिर्वसटी के एग्जाम टेस्ट को क्लियर कर पाई 2 करोङ की स्कॉलरशिप

निश्चल ने भी बारवीं तक यहां से पढाई करने के बाद अन्य स्टूडेंट्स का लिए दुनिया की टाॅप यूनिर्वसटीज में एडमिशन के लिए एग्जाम दिया जिसमें निश्चल सफल हुआ । और वर्ल्ड की सबसे टाॅप यूनिर्वसटीज  काॅलेजस में से एक अमेरिका के   वेलेस्ले काॅलेज ने निश्चल को अपने काॅलेज में एडमिशन दिया। और उसका सारा खर्च उठाने का जिम्मा लिया। निश्चल की इस उपलब्धि के बाद निश्चल के घर में खुशी का मौहल छाया हुआ सै । निश्चल के भाई बहन भी अपने भाई की तरह पढ लिखकर आगे बढना चाहते है और अपने और देश के लिए कुछ करना चाहते है ।

वैसे आपको बता दें यूपी के मेरठ के रहने वाले निश्चल की मां ने भी उनके साथ ही बारवी की परीक्षा पास की है । क्योंकि निश्चिल का परिवार भले ही गरीब है पर शिक्षा के महत्व को बहुत अच्छे से समझता है । और निश्चल ने अपने दम पर ये उपलब्धि पाकर एक नई मिसाल कयाम की है ।

Don't Miss! random posts ..