ENG | HINDI

इस देश ने लगाया पाप टैक्स, जानिए कौन कौन से ‘पाप’ के बदले देना होगा टैक्स

पाप टैक्स

पाप टैक्स – अगर सरकार आपसे पाप के बदल में टैक्स मांगे तो आप शायद उसके लिए तैयार हो जाएंगे।

लेकिन हमारी संस्कृति इसका विरोध करेगी क्योंकि इससे पाप के बढ़ने का खतरा और बढ़ जाएगा। पैसे के दम पर लोग पाप करने से पीछे नहीं हटेंगे। अरब देशों में एक देश ऐसा भी है जिसने पाप के बदले में टैक्ट लगा दिया है। मतलब साफ है आप पाप कर सकते हैं बदले में आपको सरकार को टैक्स देना होगा।

पिछले कुछ समय से पैट्रोल और डीजल के दामों में लगातर गिरावट आ रही है। दामों में इस भारी गिरावट के कारण अरब देशों की अमीरी पर असर पड़ रहा है। उन्हें पैसे की तंगी का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में उन्होंने पैसा वसूलने का नया फार्मूला तैयार कर लिया है।

एक समय था जब अरब देशों  में टैक्स को पाप माना जाता था। लेकिन यूएई ने पैसे की किल्लत के कारण पाप टैक्स लगा दिया है। सिन का हिंदी अनुवाद पाप होता है अर्थात पाप टैक्स। अगर हिंदी में इसे समझे तो लोगों को अब पाप टेक्स देना होगा।

किन वस्तुओं पर लगेगा पाप टैक्स :

यह सिन टैक्स जिन वस्तुओं पर लगाए गए हैं उनमें तंबाकू के सभी प्रोडक्ट, कोल्ड ड्रिंक्स और एनर्जी ड्रिंग है। सरकार इस पाप टैक्स से दोहरा फायदा चाहती है। ज्यादा टैक्स होने से इसके उपयोग करने वालों की संख्या कम होगी वहीं दूसरा टैक्स से सरकार का खजाना भी भड़ता रहेगा।

सरकार तम्बाकू से संबंधित उत्पाद और एनर्जी ड्रिंक पर सौ प्रतिशत टैक्स वसूलेगी वहीं कोल्ड ड्रिंग पर पचास प्रतिशत टैक्स वसूलेगी। टैक्स लगने के बाद तम्बाकू के दाम सीधे दोगुणे हो जाएंगे वहीं सॉफ्ट ड्रिंक के दाम में 50 फीसदी बढ़ौतरी होगी।

गल्फ कोऑपरेशन काउंसिल में शामिल 6 देश जनवरी से अलग से पांच प्रतिशत टैक्स वसूलने पर भी राजी हो गए हैं। गल्फ देशों के इस फैसले से उम्मीद है कि नशीलें चीजों से लोगों की लत कम होगी वहीं इससे सरकारी खजाना में बढ़ोतरी होगी।

Article Categories:
विशेष

Don't Miss! random posts ..