ENG | HINDI

शिवलिंग के एक नहीं कई प्रकार होते हैं.

shiva-linga

सावन के इस पवन मास पर हर शिव भक्त भगवान शिव की पूजा करता हैं, उनका ध्यान करता हैं.

मंदिरों में जा कर शिवलिंग पर जल आदि चढ़ाता हैं.लेकिन क्या आप जानते हैं कि शिवलिंग केवल तरह के नहीं होते इस के कई प्रकार होते हैं. भगवान् शिव के नाम अर्थात शिव का अर्थ कल्याण होता हैं. दो अक्षरों से मिलकर बना यह शब्द ऐसा हैं कि इसे परम्ब्रहम स्वरूप माना जाता हैं. इससे अलग कोई दूसरा तारक नहीं हैं.

भगवान् शिव की जब भी पूजा की जाती हैं तो उनका जलाभिषेक बहुत महत्वपूर्ण माना जाता हैं और यदि अभिषेक  शिवलिंग का हो तो उसे और भी पवित्र माना गया हैं. शिव जी का जल से कराया गया स्नान ‘रुद्राभिषेक’  कहा जाता हैं जो अत्यंत फलदायी होता हैं.

तो आईये जानते हैं शिवलिंग के प्रकार-

1.   पारद शिवलिंग-

इस शिवलिंग का अभिषेक सबसे उत्कृष्ट माना गया हैं. कहते हैं कि इस शिवलिंग से जीवन में सुखशांति और सौभाग्य प्राप्त होता हैं. हमारे घर, ऑफिस, दूकान आदि जगहों पर हम सबसे ज्यादा इसी शिवलिंग की पूजा करते हैं. इस शिवलिंग की स्थापना के लिए ज्यादा कर्मकांड की आवश्कता नहीं होती लेकिन विधिवत पूजा से कई लाभ प्राप्त होते हैं.

2.   मिश्री शिवलिंग-

यह शिवलिंग चीनी या मिश्री से बना होता हैं. कहते हैं कि इस की पूजा करने से रोगों का नाश होता हैं  और उनकी पीढ़ा से मुक्ति मिलती हैं.

3.   जौं और चावल से बने शिवलिंग-

यह शिवलिंग पारिवारिक समृधि के लिए होता हैं. इस शिवलिंग से जो दम्पति संतानसुख से वंचित हैं उन्हें संतान सुख की प्राप्ति होती हैं.

4.   भस्म शिवलिंग-

यज्ञ की भस्म से बनायीं गयी यह शिवलिंग अभीष्ट सिद्धियों की प्राप्ति के लिए होती हैं. इसकी पूजा अक्सर अघोरी सम्प्रदाय के लोग अधिक करते हैं.

5.   गुड़ शिवलिंग-

गुड़ और अन्न से मिल कर बने इस शिवलिंग की पूजा करने से कृषि और अन्न उत्पादन में वृद्धि होती हैं.

6.   फल-फूल के शिवलिंग-

फूल से बने शिवलिंग की पूजा करने से भूमि-भवन से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा मिलता हैं,   वही फल से बने शिवलिंग की पूजा करने से घर में अन्न-जल आदि में समृधि होती हैं.

7.   स्वर्ण-रजत से बने शिवलिंग-

सोने और चांदी के धातु से बने शिवलिंग से सुख समृधि तथा धन वैभव की प्राप्ति होती हैं.

8.   बिबर मिटटी के शिवलिंग-

बिबर की मिटटी से बने शिवलिंग विषैले प्राणी जैसे सर्प बिच्छू आदि से रक्षा करते हैं. इस शिवलिंग की पूजा से इस तरह के भय से मुक्ति मिलती हैं.

9.   दही से बने शिवलिंग-

दही को कपड़े में बांध कर बनाया गया शिवलिंग सुख समृधि और धन सम्पति की प्राप्ति के लिए होता हैं.

10.   लहसुनिया शिवलिंग-

लहसुनिया से बने शिवलिंग की पूजा से हमें हमारे शत्रु पर विजय प्राप्ति की समस्त मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

शिवलिंग के इन प्रकारों के अलावा स्फटिक, आंवलें, कपूर आदि से बने शिवलिंग की पूजा से भी सभी मनोकामना की पूर्ति होती हैं और सावन मास के इस शुभ समय पर भगवान शिव अपने भक्तो का कष्ट निवारण करते हैं.

Article Categories:
विशेष

Don't Miss! random posts ..