ENG | HINDI

दूध में तुलसी के पत्ते मिलाकर पीने से इन पांच बीमारियों में मिलती है बड़ी राहत !

दूध में तुलसी के पत्ते

दूध में तुलसी के पत्ते – दूध को सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है यही वजह है कि हमारे देश में बच्चे, बड़े और बुजुर्ग भी हर रोज दूध का सेवन करते हैं.

हालांकि दूध को अकेले पीना भी फायदेमंद ही है लेकिन अगर दूध में कुछ पौष्टिक चीजों को मिलाकर पीते हैं तो इसका फायदा दोगुना हो जाता है.

इसी कड़ी में आज हम आपको बताने जा रहे हैं प्राकृतिक औषधिय गुणों से भरपूर तुलसी के पत्तों को दूध में मिलाकर पीने से किन-किन बीमारियों में फायदा होता है.

दूध में तुलसी के पत्ते –

1- वायरल फ्लू से राहत

बदलते मौसम के चलते होनेवाले वायरल फ्लू से शरीर कमजोर हो जाता है. ऐसे में वायरल फ्लू से पीड़ित व्यक्ति को दूध में तुलसी के पत्ते, लौंग और काली मिर्च मिलाकर गर्म कर लेना चाहिए, फिर उस दूध को ठंडा करके पी लेना चाहिए.

सुबह के वक्त खाली पेट दूध को इस तरह से गर्म करके पीने से वायरल फ्लू में ज्यादा आराम मिलता है. इसके अलावा तुलसी वाला यह दूध रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है.

2- माइग्रेन से राहत

माइग्रेन की समस्या के चलते अक्सर आपके सिर में दर्द रहता है तो तुलसी के पत्तों वाला दूध इसके लिए एक कारगर इलाज माना जाता है.

अगर आपको माइग्रेन की समस्या है तो अभी से सुबह-शाम तुलसी और हल्दी वाला दूध पीना शुरू कर दें. तुलसी वाला यह दूध माइग्रेन और सिर में होनेवाले सामान्य दर्द को भी ठीक कर देगा.

3- दिल को रखे सेहतमंद

तुलसी वाला दूध दिल के मरीजों के लिए भी काफी फायदेमंद माना जाता है. अगर आपके घर में कोई दिल से जुड़ी बीमारी से पीड़ित है तो उसके लिए दूध में तुलसी के पत्ते मिलाकर दूध गर्म करें और उसे ठंडा करके पीड़ित व्यक्ति को पिलाएं. यह दूध दिल के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है.

4- पथरी की समस्या से राहत

अगर आपको पथरी की समस्या हो गई है और इससे छुटकारा पाने के लिए आपके पास ऑपरेशन कराने के अलावा और कोई दूसरा रास्ता नहीं  है, तो एक हफ्ते तक सुबह खाली पेट एक गिलास तुलसी के पत्तों वाला दूध पीकर देखिए.

इस उपाय से कुछ ही दिनों में आपके किडनी की पथरी गलकर निकल जाएगी और आपको बिना ऑपरेशन कराए ही पथरी की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा.

5- कैंसर से लड़ने में मददगार

दूध में विटामिन सी को छोड़कर बाकी सारे विटामिन्स और पौष्टिक खनिज तत्व पाए जाते हैं. जबकि तुलसी के पत्तों में एंटीबायिक गुण पाए जाते हैं जो कैंसर जैसी बीमारी से लड़ने में सक्षम होते हैं.

दूध में तुलसी के पत्ते को गर्म करके सुबह-शाम नियमित रुप से पीने पर कैंसर के मरीजों को काफी राहत मिलती है. तुलसी वाला दूध कैंसर से लड़ने में काफी मददगार साबित होता है.

दूध में तुलसी के पत्ते मिलकर पीने से इन बिमारियों से निजात पा सकते है. तुलसी के पत्तों वाला दूध इन पांच बीमारियों में काफी कारगर माना जाता है इसके अलावा यह खास दूध हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है जिससे बीमारियां हमसे कोसों दूर भागने लगती हैं.

Don't Miss! random posts ..