ENG | HINDI

“वर्क फ्रॉम होम” कम्पनियों का सच क्या है आख़िर? पहले जानिये फिर शुरू कीजिये!

work-from-home

आजकल घर बैठे बिना मेहनत किये आसानी से पैसे कमाने के बहुत तरीके निकल आये हैं और आये दिन आप बसों, ट्रेनों में इनके विज्ञापन देखते रहते हैं|

इन्हें “वर्क फ्रॉम होम” कंपनीज़ कहते हैं जो आपसे ज़्यादा वक़्त नहीं माँगतीं लेकिन पैसे ढेर सारे देने के वादे करती हैं| क्या हैं इनका सच?

चलिए ज़रा समझते हैं इनकी हक़ीक़त ताकि आप सोच-समझ कर फ़ैसला करें!

1) यह जानीमानी कंपनियाँ नहीं हैं!

इन कंपनियों के बारे में आपने कभी नहीं सुना होगा फिर भी ये दावा करती हैं कि करोड़ों का टर्नओवर है इनका और आप भी इनके साथ करोड़पति बन जाएँगे! जहाँ ऐसा कुछ दिखे, समझ लो धोखा है, भाग लो भैया!

2) आपसे सामने से पैसे माँगती हैं!

इन कंपनियों की स्ट्रेटेजी होती है कि आपसे पैसे मांगे जाएँ और ये भी कहा जाए कि अपने जैसे मेहनत करने वाले और भी लोग लाओ, दिन के सिर्फ 4-5 घंटे काम करो और लाखों कमाओ! याद रखो दोस्तों, इन्हे मल्टी लेवल मार्केटिंग वाली कंपनी भी कहा जाता है जो सिर्फ़ आपका पैसा लूटती हैं, बदले में ढेला नहीं मिलेगा आपको!

3) मोटीवेट करने वाली मीटिंग में बुलाती हैं आपको!

आपको बुलाया जाएगा किसी होटल या रेस्टोरेंट में, अच्छा खाना खिलाया जाएगा, चाय-कॉफ़ी होगी और फिर आपको मोटीवेट किया जाएगा कि आप इनके मेंबर बनें, हाथों हाथ चेक साइन करें या क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करें और फिर अपने जैसे 100-200 लोग और इकट्ठे कर के लाएँ! ऐसा करने पर ही आपके पैसे वापस मिलेंगे और जो आप ये ना कर पाये तो समझ लीजिये आपके लगाये हुए पैसे गए पानी में!

4) आपका हुनर नहीं चाहिए इनको!

इन्हें इस बात में कोई दिलचस्पी नहीं है कि आप में किस तरह का हुनर है| आप लेखक हैं या ग्राफ़िक डिज़ाइनर हैं या आपको और कोई काम आता भी या नहीं, इससे इनको कोई सरोकार नहीं है! बस लोगों को शैम्पू या कोई प्रोटीन शेक बेचना आता हो आपको तो आप उनके लिए काम के हैं! अब बताईये, शैम्पू बेचने के कोई आपको लाखों रुपये क्यों देगा भला? और वो भी घर-घर जाके बेचने के?

5) कोई मेडिकल या रिटायरमेंट के फ़ायदे नहीं दिए जाएँगे आपको!

जो भी जायज़ कंपनियाँ होती हैं, वो अपने एम्प्लोईज़ को मेडिकल फ़ैसीलिटी देती हैं, रिटायरमेंट के बाद पेंशन की सुविधा या प्रोविडेंट फ़ंड देती हैं लेकिन ये जाली कंपनियाँ आपको इस तरह का कोई बेनीफ़िट नहीं देंगी! बल्कि आपकी जेब से चार पैसे निकलवाएँगी ही, डालेंगी नहीं!

याद रखिये, आपसे घर बैठे काम करवाने का पैसा सिर्फ़ वही कंपनी देगी जिसको आपके किसी हुनर, आपकी किसी स्किल की सच में ज़रुरत है और वो भी आपको नियमित तौर पर ऑफ़िस बुलाएगी ही| रोज़ नहीं तो कभी-कभी! और घर बैठे काम करने वाले कुछ चुनिंदा प्रोफ़ेशन ही हैं जैसे कि लेखक, ग्राफ़िक डिज़ाइनर, प्रोग्रामर्स, वगैरह! बाक़ी सभी कामों के लिए आपको ऑफ़िस जाना ही पड़ेगा या आपका बॉस आप से कहेगा कि हफ़्ते में कुछ दिन घर से काम करो और कुछ दिन ऑफ़िस में आकर!

तो इन “वर्क फ्रॉम होम” वाले पंगों से दूर ही रहो और मेहनत करके खाओ, आसानी का रास्ता मत ढूँढो!

Don't Miss! random posts ..