ENG | HINDI

मिलिए विश्व के इन 3 देशभक्तों से जो अपना काम करते करते ईश्वर को प्यारे हो गये !

देशभक्त जो काम करते करते ईश्वर को प्यारे हो गये

इस धरती पर कुछ ऐसे भी इंसानों ने जन्म लिया, जिनका जिक्र भी करो तो दिल गर्वित महसूस करता है.

भले वे आज हमारे बीच नहीं है लेकिन अभी भी उनके चाहनेवालों की संख्या बढ़ती जा रही है.

हम बात कर रहे है विश्व के उन तीन देशभक्तो की, जिनके लिए कर्म ही पूजा थी. जिन्होंने जिंदगीभर काम को अपना सबकुछ माना. काम के लिए ही जिये और काम करते करते ईश्वर को प्यारे हो गए.

आइए आपको मिलवाते है ऐसे तीन प्रख्यात शख्सियतों से जो इतिहास बन चुके है. हमारे बीच नहीं है लेकिन अपने चाहनेवालों की रूह में आज भी ज़िंदा है.

देशभक्त जो काम करते करते ईश्वर को प्यारे हो गये –

1 – अब्दुल कलाम

Apj

भारत देश के 11 वे राष्ट्रपति अब्दुल कलाम  की मृत्यु बेहद चौकाने वाली थी. उनकी तबियत खराब होने के बावजूद वे आसाम में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस अटेंड करने पहुचे थे. चुकिं उन्हें अपने काम से बहोत लगाव था इसलिए वे अपनी जिद के चलते युवाओं को प्रोत्साहित करने पहुचे थे. 27 जुलाई 2015 के दीन भाषण करते वक्त अचानक वे गिर पड़े और उनकी मृत्यु हो गई.

2 – फिलिप ह्यूज़

Cric

27 नवंबर 2014 का दीन क्रिकेट के लिए काली रात है. कम उम्र में ही खुद को मशहूर करने वाले आस्ट्रेलिया के युवा लेफ्ट हेंड बल्लेबाज़ फिलिप ह्यूज़ की मृत्यु इसी दीन हुई थी. फिलिप ह्यूज़, भारत से मैच खेलने की तैयारी में जुटे थे. प्रेक्टिस के दौरान एक गेंद फिलिप के सर पर आकर लगी. गेंद की रफ़्तार इतनी तेज़ थी कि हेलमेट पहनने के बावजूद भी फिलिप की जान नहीं बचाई जा सकी.

3 – पॉल वॉकर

Paul

गाडियों का शौक ही एक दीन मौत का कारण बन जाएगा.  इस बात की भनक तक स्वर्गीय पॉल वॉकर को नहीं थी. अमेरिकन अभिनेता पॉल वॉकर अपनी फिल्म ”फ़ास्ट एंड फ्युरियस” की शूटिंग में दिन रात व्यस्त रहते थे. इस फिल्म का 7 पार्ट तो शूट हो चुका था, लेकिन 8वे पार्ट की जब 20% शूटिंग ही बची थी तब पॉल वॉकर की एक कार एक्सीडेंट में मौत हो गई. इसके बाद पॉल  वॉकर के भाई कोडी वॉकर ने अधूरी शूटिंग पुरी की ताकि उनके भाई को वे अपनी ओर से श्रद्धांजली दे सके.

ये थे तीन महारथी, तीन देशभक्त जो काम करते करते ईश्वर को प्यारे हो गये – जिन्हें अपने काम से ज्यादा कुछ भी प्यारा नही था. ये हर पल सिर्फ अपने काम को ही इमानदारी से निभाते रहे. ऐसे में ईश्वर की करनी तो देखीए. इन तीनो को ही आशीर्वाद दिया कि वे अपने कर्मभूमि पर ही आख़िरी साँस ले.

ऐसे देशभक्त जो काम करते करते ईश्वर को प्यारे हो गये – उनको हमारी ओर से भावपूर्ण श्रद्धांजली ! ईश्वर इनकी आत्मा को शांती दे.

Don't Miss! random posts ..