ENG | HINDI

मृत्यु के बाद क्या होता है? आपको अगर ये जानना है तो इस मंदिर में जरूर जाइये !

मौत के बाद

कहते हैं जो इंसान अपने जीवनकाल में अच्छे कर्म करता है उसे मौत के बाद स्वर्ग में स्थान मिलता है, लेकिन जो जीते जी दूसरों को कष्ट पहुंचाता है या ढेर सारे पाप करता है वो मौत के बाद सीधे नर्क को जाता है.

लेकिन वास्तव में इंसान की मृत्यु के बाद उसकी आत्मा के साथ क्या-क्या होता है ये कोई नहीं जानता. लेकिन इसी दुनिया में एक ऐसा स्थान भी है जहां जाकर इंसान अपने जीते जी मौत के बाद की हकीकत को जान सकता है.

तो चलिए हम आपको बताते हैं उस खास जगह के बारे में, जहां मौत के बाद की हकीकत आम इंसानों को बताई जाती है.

इस मंदिर में होते हैं नर्क के दर्शन

आमतौर पर किसी भी मंदिर में जाकर लोगों के मन को शांति और सुकून का अहसास होता है. इसके साथ ही लोग मंदिर में विराजमान देवी-देवताओं के दर्शन करके अपने खुशहाल जीवन की दुआ मांगते हैं.

वैसे तो पूरी दुनिया में ऐसे कई मंदिर हैं जो अपनी किसी ना किसी खासियत की वजह से जाने जाते हैं. लेकिन हम बात कर रहे हैं एक ऐसे मंदिर की जहां लोग नर्क के दर्शन करने के लिए जाते हैं.

दरअसल थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक से करीब 700 किलोमीटर दूर चियांग माइ शहर में स्थित इस मंदिर को नर्क मंदिर के नाम से जाना जाता है. यहां लोग किसी देवी-देवता के दर्शन के लिए नहीं जाते बल्कि नर्क देखने के लिए पहुंचते हैं.

यहां की मूर्तियां दिलाती है नर्क का अहसास

इस नर्क मंदिर में कई मूर्तियां मौजूद हैं लेकिन ये सारी मूर्तियां किसी देवी या देवता की नहीं है बल्कि यहां स्थित सभी मूर्तियां यहां आनेवाले इंसानों को नर्क का अहसास दिलाती है.

ये मूर्तियां इंसान की मौत के बाद उसके द्वारा किए गए पापों के लिए दी जानेवाली सजा के दर्दनाक नजारे को दिखाती हैं. सनातन धर्म और बौद्ध धर्म के लिए बनाए गए इस मंदिर में सभ्यता और संस्कृति का खासा प्रभाव देखने को मिलता है.

आपको बता दें कि चियांग माइ शहर में करीब 300 मंदिर स्थित हैं लेकिन यहां का नर्क मंदिर इन सब मंदिरों में इकलौता अनोखा मंदिर है.

यहां पापों का प्रायश्चित करने आते हैं लोग

इस मंदिर के निर्माण के पीछे आम लोगों को यह बताने का मकसद था कि जीते जी पाप करने या किसी को ठेस पहुंचाने का अंजाम काफी बुरा होता है जो मौत के बाद आपकी आत्मा को भुगतना पड़ता है.

यहां मौजूद सभी मूर्तियां इस बात का अहसास दिलाती हैं कि बुरे कर्म करनेवाले इंसान की मौत के बाद उसकी आत्मा को नर्क में किस तरह की यातनाएं झेलनी पड़ती है.

इस मंदिर को लेकर मान्यता यह भी है कि लोग अपने पापों का प्रायश्चित करने के लिए यहां आते हैं. यहां दर्शन के लिए आनेवाले लोगों का मानना है कि जो भी यहां आकर दर्शन कर लेता है वह अपने सभी पापों का प्रायश्चित कर लेता है.

बहरहाल अगर आप भी मौत के बाद नर्क में मिलनेवाली दर्दनाक यातनाओं के बारे में जानना चाहते हैं तो फिर आपको इस मंदिर में एक बार जरूर जाना चाहिए.

Don't Miss! random posts ..