ENG | HINDI

अपने कॉलेज एजुकेशन की फ़ील्ड चुनने से पहले इन 10 सवालों के जवाब जान लीजिये! ज़रूरी है!

college-education

स्कूल में तो सभी की पढ़ाई करीब एक सी ही होती है, लेकिन कॉलेज में जाकर आपका करियर बनता है|

लेकिन अगर बिना सोचे-समझे या जल्दबाज़ी में कोई कॉलेज या कोई सब्जेक्ट चुन लिए तो समय की बर्बादी तो होती ही है, पूरे करियर पर सवालिया निशान खड़ा हो जाता है|

आईये बताता हूँ ऐसी 10 बातें जो कॉलेज एजुकेशन शुरू करने से पहले बहुत ही ज़रूरी हैं:

1) कौन से सब्जेक्ट्स पसंद हैं?

कॉलेज में आते ही ढेरों कोर्सेस के बारे में पता चलता है आपको| कुछ के बारे में सुन कर लगता है अच्छा होगा लेकिन कुछ ही दिनों में एहसास होता है कि ग़लती कर ली! बेहतर है पहले से बारीक़ी से जांच कर लो, उसके बाद सब्जेक्ट्स या कोर्स चुनो!

2) किस तरह के स्टूडेंट्स हैं कॉलेज में?

यह बहुत ज़रूरी है क्योंकि जिस तरह के बच्चे कॉलेज में होंगे, वो आप के व्यक्तित्व पर गहरा असर ज़रूर डालेंगे| इसलिए यह जान लो कि किस तरह के स्टूडेंट्स आपके पसंदीदा कॉलेज में पढ़ते हैं और फिर फ़ैसला लो कि कॉलेज जॉएन करना है या नहीं!

3) सीनियर्स से बात की?

जो स्टूडेंट्स आपकी पसंद के कोर्स कर चुके हैं या आपसे एक-दो साल सीनियर हैं उनसे बात करनी ज़रूरी है| वो बता पाएँगे कि उस कोर्स से किस तरह की नौकरी मिल सकती है और कोर्स में कितनी जान है!

4) क्लासरूम्स और लैब्स कैसे हैं?

अगर आप साइंस के स्टूडेंट हैं तो यह जान लेना और भी ज़रूरी हो जाता है कि क्या आपके कॉलेज के लैब्स और क्लासरूम्स आधुनिक उपकरणों से लैस हैं या नहीं? वरना कुछ भी सीख पाना बहुत मुश्किल हो जाएगा!

5) सपोर्ट सिस्टम कैसा है?

कॉलेज में पढ़ाई के लिए आपको सिर्फ किताबों और टीचर्स की ज़रुरत नहीं होती बल्कि एक ऐसा सपोर्ट सिस्टम भी चाहिए जो आपके विकास मैं मदद करे| एडमिनिस्ट्रेशन कैसा है, स्पोर्ट्स के उपकरण कैसे हैं, कॉलेज में सीनियर्स और मेंटर्स कितनी सहायता करते हैं वगैरह!

6) प्रोफ़ेसर

आधी जीत वहीं हो जाती है आपकी अगर आपके प्रोफ़ेसर अच्छे हैं| जो सब्जेक्ट आपको पढ़ने हैं, अगर उसके प्रोफ़ेसर आलसी, ढीले या पढ़ाने में सक्षम नहीं हैं तो कितना ही अच्छा कोर्स क्यों ना चुना हो आपने, किसी काम नहीं आएगा!

7) बाहर पढ़ने की संभावनाएँ

कई बार ऐसा होता है कि जो कोर्स आप कर रहे हैं, वो सिर्फ़ यहाँ ही काम आएगा या पढ़ाया जाता है और अगर आप उच्च शिक्षा के लिए बाहर जाना चाहें, तो वैसे कोर्सेस ढूँढ पाना नामुमकिन सा हो जाएगा! ऐसे में पूरी रिसर्च करके ही कोर्स चुनें!

8) क्या कॉलेज सर्वसंपन्न है?

क्या आपके कॉलेज में ही आपके कोर्स के मुताबिक सारी जानकारी उपलब्ध है? हर तरह की मदद आपको मिल जायेगी? या बाहर ट्यूशन्स और साइड-कोर्सेस भी करने पड़ेंगे अपने मेजर कोर्स को सपोर्ट करने के लिए? ऐसा ना हो कि वक़्त और पैसे दोनों की बर्बादी हो!

9) क्या मान्यता प्राप्त है?

जिस भी कॉलेज में जो भी कोर्स करना चाह रहे हैं, जान लीजिये कि क्या उसे सरकारी मान्यता प्राप्त है और नौकरियों के बाज़ार में उस कॉलेज और कोर्स का क्या महत्व है? इसके बाद ही कोई फ़ैसला लें|

10) अभी भी वक़्त है

अगर यह सब पढ़ने के बाद लग रहा है कि किसी ग़लत कॉलेज या कोर्स में फँस चुके हो तो घबराओ मत, कोर्स और कॉलेज दोनों बदले जा सकते हैं! थोड़ी रिसर्च करो और सही फ़ैसला लो, बजाये और समय बर्बाद करने के!

तो दोस्तों ज़रा ध्यान से और समय लगाकर फ़ैसला लो| यह फ़ैसला आने वाली पूरी ज़िन्दगी पर प्रभाव डालेगा!

गुड लक!

Don't Miss! random posts ..