ENG | HINDI

ये निजी बातें किसीको नहीं बतानी चाहिए – हमेशा गुप्त रखनी चाहिए

जीवन की निजी बातें

बात करने से मन हल्का होता है यह बात सभी कहते हैं.

लेकिन जीवन की निजी बातें ऐसी होती है, जिसको बताने और करने से मन हल्का हो न हो लेकिन आगे ज़िन्दगी में मुसीबत ज़रुर बन सकती है.

यह बातें दोस्तों से शेयर करने पर भविष्य में कई तरह की समस्या और परेशानियां हो सकती है.

आइये जानते हैं जीवन की निजी बातें जो किसीको नहीं बतानी चाहिए.

1 – पारिवारिक भेद –

अपने पारिवारिक भेद हमेशा गुप्त रखने चाहिए, पारिवारिक भेद जानने के बाद अच्छे से अच्छा मित्र कहीं न कहीं दिमागी शत्रु की तरह कार्य करता है. दिमाग को नकरात्मक और संबंधों के विपरीत बनता है. पारिवारिक भेद जानने वाला कभी-कभी सबसे बड़ा घातक इंसान भी साबित हो जाता है.

2 – भूतकाल के राज –

बीते हुए कल की कुछ घटनाएं जो आपके भविष्य को प्रभावित कर सकती हैं या अतीत के कुछ काले पल जिससे वर्तमान जीवन विचलित हो सकता है. ऐसी बातें कभी किसी को गलती से नहीं बतानी चाहिए, क्योंकि जो आपका अतीत जानता है उसके हाथों में जीवन भर आपकी कमजोरी दबी रह जाती है, जिसका दुरूपयोग हो सकता है.

3 – दोस्तों से जुड़े राज़ –

अपने मित्रों से जुड़ी निजी बातें व वह सारे राज़ जो आपकी मित्रता को प्रभावित कर सकती हैं या आपकी ईमानदारी पर प्रश्न चिन्ह लगा सकती है, ऐसी बातों को कभी किसी के सामने अनजाने में भी नहीं बताना चाहिए. ऐसी बातें आपकी ईमानदारी और समर्पण को कलंकित कर सकती हैं.

4 – निजी संबंधो की कटुता –

निजी संबंधो की कटुता को किसी दूसरों को बताने से वह कटुता बढ़ती है और रिश्तों में दूरियां व तनाव आता है. इसलिए निजी संबंधों में आई दूरी या कटुता का जिक्र गलती से भी किसी से न करें.

ये जीवन की निजी बातें किसीको बतानी नहीं चाहिए. जीवन को सुखी और सरल बनाना है, तो इन बातों का ध्यान रखें और अपने जीवन से जुड़ी इन बातों को कभी किसी को न बताएं. इस बातों का ध्यान रखें और अपने जीवन से जुड़ी इन सभी बातों को हमेशा गुप्त ही रखें, क्योंकि मित्र कभी भी शत्रु बन जाता है.

Don't Miss! random posts ..