ENG | HINDI

आजादी से लेकर अब तक इतनी महंगी हो गई ये 10 चीज़ें जानकर आपके होश उड़ जाएंगे!

मंहगाई की दर

मंहगाई की दर – आज देशभर में आज़ादी का जश्न मनाया जा रहा है, लोग शहीदों को याद करके उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं। मगर आज हम आपको महंगाई के जो आंकड़े दिखाने जा रहे हैं उसे देखकर आप हैरान रह जाएंगे।

आज़ादी के सात दशक में महंगाई आसमान छूने लगी हैं। आज हम 10 चीज़ों की 15 अगस्त 1947 में कितनी कीमत थी और आज वो कितनी महंगी हो चुकी हैं आपको बताने जा रहे हैं. आंकड़ें देखकर खुद ही अनुमान लगा लीजिए की विकास के साथ ही मंहगाई की दर में भी कितना इज़ाफा हुआ.

मंहगाई की दर कितनी बढ़ी है !

1 – चावल

आपको खाने में रोज़ाना इस्तेमाल होने वाला चावल 1947 में 12 पैसे प्रति किलो था और अब साधारण चावल की कीमत 30 से 40 रूपए प्रति किलो है।

2 – चीनी

चीनी की बढ़ती कीमतों ने उसकी मिठास कम कर दी है. आजादी के समय 40 पैसे प्रति किलो मिलने वाली चीनी अब 40 रुपए प्रति किलो हो गई है.

3 – आलू

आलू के बिना किसी का काम नहीं चलता. सब्जियों का राजा आलू 1947 में 25 पैसे प्रति किलो था अब ये 24 रुपए किलो मिलता है।

4 – दूध

हड्डियों को मज़बूत बनाने के लिए दूध ज़रूरी है, मगर ये इतना महंगा हो चुका है कि गरीब इसे खरीद नहीं सकते. 1947 में ये 12 पैसे प्रति लीटर था, जो अब 52 रुपये प्रति लीटर हो गया है.

5 – घी

घी 1947 में 75 पैसे प्रति किलो, लेकिन अब ये 600 रुपये प्रति किलो हो गया है.

6 – साइकिल

जिस साइकिल की कीमत 1947 में 20 रुपये थी, अब वही करीब 4500 रुपये में मिलती है.

7 – सोना

सोना तो अब आम आदमी की पहुंच से बाहर होता जा रहा है. 1947 में 10 ग्राम सोना 88.62 रुपये का था जो अब 31 हजारे रुपये प्रति 10 ग्राम हो चुका है.

8 – पेट्रोल

पेट्रोल की कीमते दिनों दिन आसमान छूती जा रही हैं. 1947 में 27 पैसे प्रति लीटर मिलने वाला पेट्रोल अब 77 रुपए लीटर हो गया है.

9 – रेल किराया

रेल के किराए में भी बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है. दिल्ली से मुंबई- फर्स्ट क्लास का किराया 1947 में 123 रुपये था, जो अब बढ़कर करीब 4,760 रुपये हो गया है.

10 – फ्लाइट किराया

दिल्ली से मुंबई जाने के लिए फ्लाइट का किराया 1947 140 रुपये था जो अब करीब 7000 रुपये हो चुका है.

ये है आजादी के बाद तक की मंहगाई की दर –  इन 71 सालों में जिस रफ्तार से महंगाई बढ़ी है अगर उसी रफ्तार से देश का विकास हुआ रहता तो यकीनन भारत भी जापान और अमेरिका की तरह विकसित देश बन गया रहता.

Don't Miss! random posts ..