ENG | HINDI

वो दुनिया जो डूब गई पानी के नीचे, आज भी उनकी वहा मौजूदगी है 

Ancient-Dwarka

कुछ ऐसे अस्तित्व होते है, जो किसी के मिटाए नहीं मिटते.

तेजस्वी ताकत को इस लिए हम  नाकार नहीं सकते क्यों की यही वो दुनिया है जिसे देखने के बाद उनकी  ताकत और शान की हमे पहचान होती है.

ऐसी ही अद्भुत दुनिया का हम सफ़र करते है जिन्होंने कभी दुनिया में राज किया था और आज भी लोग उन्हें कथाओं के द्वारा समझने की कोशिश करते है. कितना सच है ये तो शोध करता ही तय करेंगे.

आज हम बात करेंगे वो दुनिया की जो पानी के नीचे जिन्दा है.

१. द्वारका, गुजरात

हजारों वर्ष पूर्व भगवान कॄष्ण ने द्वारका शहर बसाया था, अत्यतं मनमोहक पुलों के इस शहर में कई झरने भी थे. उस समय द्वारिका राजधानी थी जहाँ से भगवान कृष्ण अपने रिमोट से विश्व को चलाते थे. कृष्ण की मृत्यु के साथ उनकी बसाई हुई यह नगरी समुद्र में डूब गई. काफी समय से जाने-माने शोधकर्ताओं ने यहां पुराणों में वर्णित द्वारिका के रहस्य का पता लगाने का प्रयास किया, लेकिन वैज्ञानिक तथ्यों पर आधारित कोई भी अध्ययन कार्य अभी तक पूरा नहीं किया गया है. 2005 में द्वारिका के रहस्यों से पर्दा उठाने के लिए अभियान शुरू किया गया था. इस अभियान में भारतीय नौसेना ने भी मदद की.

अभियान के दौरान समुद्र की गहराई में कटे-छटे पत्थर मिले और यहां से लगभग 200 अन्य नमूने भी एकत्र किए, लेकिन आज तक यह तय नहीं हो पाया कि यह वही नगरी है अथवा नहीं जिसे भगवान श्रीकृष्ण ने बसाया था. आज भी यहां वैज्ञानिक स्कूबा डायविंग के जरिए समंदर की गहराइयों में कैद इस रहस्य को सुलझाने में लगे हैं.

Dwarka-Destruction

1 2 3 4 5

Don't Miss! random posts ..