ENG | HINDI

देश के इन असली हीरों पर भरोसा रखिए – आपको कुछ नहीं होगा

असली हीरों

यदि किसी का बच्चा घर से बाहर निकलता है तो मां-बाप को उसकी फिक्र नहीं होती, क्योंकि चाहें लोग कितना ही पुलिस विभाग को भला बुरा कहें लेकिन सबको भरोसा है कि उनके बच्चे को कुछ नहीं होगा और वह सकुशल घर लौटेगा।

आखिर यह भरोसा लोगों में किसकी वजह से है?

लोग इतनी बुराइयों के बावजूद पुलिस के भरोसे अपनी जिंदगी कैसे जी रहे हैं?

यह भरोसा उन्हें किसने दिलाया?

वे कौन लोग हैं जो इस भ्रष्ट होती जा रही व्यवस्था की नींव में आज भी स्तंभ की तरह खड़े हुए हैं?

दिन-रात जो अपनी जान की परवाह किए बिना, अपने परिवार की परवाह किए बिना, सिर्फ आपके लिए अपनी जान देने के लिए तैयार हैं। क्यों हमारा ध्यान उन असली हीरों की ओर कभी नहीं जाता?

आज हम बात करने जा रहे हैं ऐसे ही कुछ जांबाज़ असली हीरों की जो अपनी कार्यशैली के बल पर न केवल बुरे लोगों बल्कि बुरा करने के बारे में सोचने वालों तक के लिए खौफ का पर्याय बन चुके हैं।

ये असली हीरों जिस भी क्षेत्र में तैनात हों दहशतगर्द भी इनके नाम से दहशत में रहते हैं।

1 – नवनीत सिकेरा

जब पिता के साथ पुलिस ने बदसलूकी की तो खुद ही वर्दी पहन ली। अब तक 60 से ज्‍यादा एनकाउंटर कर चुके हैं। लखनऊ में आतंक दूसरे नाम से जाने जाने वाले गैंगस्टर रमेश कालिया का इन्होंने सफाया कर दिया।

navneet-sikra-ips

1 2 3 4 5 6 7

Article Categories:
विशेष

Don't Miss! random posts ..