ENG | HINDI

दुनिया का एकमात्र मंदिर जहाँ रात को भगवान बन जाते हैं डॉक्टर !

मंदिर जहाँ भगवान डॉक्टर बनते है

मंदिर जहाँ भगवान डॉक्टर बनते है – भारत एक ऐसा देश है जहाँ मान्यताएं बहुत मायने रखती हैं.

हमारा देश मंदिरों का देश भी है. दुनियाभर में मंदिरों की भरमार है. हर मंदिर के पीछे कोई न कोई कहानी है. एक ऐसा मंदिर जहाँ भगवान डॉक्टर बनते है – ऐसे ही मंदिर की कहानी हम आपको बताने जा रहे हैं, जहाँ पर भगवान रात में लोगों का इलाज करने आते हैं.

यह मंदिर जहाँ भगवान डॉक्टर बनते है ग्वालियर से करीब ७० किलोमीटर है. यह मंदिर हनुमान जी का है. हनुमान जी को वैसे भी संकट मोचन कहा जाता है. इस मंदिर में दूर दूर से लोग अपनी मुराद और बीमारी लेकर आते हैं. यहाँ हर दिन आपको भीड़ दिखाई देगी.

लोग कहते हैं कि इस मंदिर में रात को भगवान खुद डॉक्टर के रूप में आते हैं और वो लोगों का इलाज करते हैं. एक मान्यता के अनुसार एक साधू जिसका नाम शिवकुमार दास था, उसे कैंसर हुआ था. वो भगवान की सेवा में दिन-रात लगा दिया करता था. उसे अपने जीवन का ज़रा भी ख्याल न रहता. न जाने कब भगवान के इस दास को कैंसर जैसी घातक बीमारी ने जकड़ लिया और उसकी हालत दिन बा दिन खाराब होती चली गई. लोगों ने उसे डॉक्टर के पास जाने को कहा तो उसने कहा कि उसका इलाज भगवान खुद करेंगे. इनसे बढ़कर कोई डॉक्टर नहीं है. लोगों को बड़ा अजीब लगा. कुछ ये सोचने लगें कि बीमारी से दास की दिमागी हालत खराब हो है जिसके कारण वो कुछ भी बोल रहा है.

एक दिन रात को जब दास भगवान की शरण में बैठा था तभी वो देखा कि खुद भगवान् डॉक्टर के रूप में गले में आला डाले उसके सामने खड़े थे. ये देखकर दास आश्चर्य चकित हो गया. भगवान ने उसका इलाज किया और दास कैंसर से ठीक हो गया.

सुबह सबने जब दास की बात सुनी तो सबको आश्चर्य हुआ, लेकिन साधू का स्वस्थ शरीर सबको ये मानने के लिए राज़ी कर दिया. उस दिन से दूर दूर से लोग इस मंदिर में भगवान हनुमान को डॉक्टर के रूप में पूजते हैं.

यह मंदिर जहाँ भगवान डॉक्टर बनते है बड़ा ही अजूबा है. यहाँ पर भगवान हनुमान की मूर्ति नृत्य मुद्रा में है. इसी मुद्रा को देखकर लोग प्रसन्न होते हैं और भगवान के पास अपनी कई बीमारियों का इलाज लिए पहुँच जाते हैं.

किसी ने सही कहा है भगवान को जिस रूप में देखोगे उसी में पाओगे ये अपने अपने मन का विश्वास है.

Don't Miss! random posts ..