ENG | HINDI

अमित शाह ही नहीं ये 3 लोग हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सबसे करीब

मोदी की टीम

प्रधानमंत्री का पद ही बड़ा नहीं होता बल्कि उनकी जिम्मेदारी भी बड़ी होती हैं।

ऐसे में प्रधानमंत्री को कुछ ऐसे धुरंधरों की जरुरत होती है जो उनको रास्ता भी दिखाए और हर कदम पर साथ भी रहे।

प्रधानमंत्री मोदी के लिए भी ये चार लोग, मोदी की टीम, ऐसे ही है जो हर कदम पर उनके साथ होते हैं।

ये है मोदी की टीम –

1. नृपेन्द्र मिश्रा, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव

ट्राई के पूर्व अध्यक्ष नृपेन्द्र मिश्रा प्रधानमंत्री मोदी के पद संभालने के बाद प्रधान सचिव बने। मिश्रा पीएमओ आफिस के सबसे पॉवरफुल ब्यूरोक्रेटस में से एक हैं। वह प्रधानमंत्री मोदी के सबसे करीबी होते हैं। नरेंद्र मोदी उनकी बिना किसी सलाह के किसी भी कार्य को नहीं करते। नृपेन्द्र मिश्रा पीएमओ कार्यालय में सबसे वरिष्ठ अधिकारी हैं। वाराणसी में चुनाव प्रचार के दौरान उनकी मुलाकात नरेंद्र मोदी से हुई थी। सबसे खास बात यह है कि उत्तर प्रदेश कैडर के आईएएस आफिसर मिश्रा मोदी से ज्यादा अमित शाह के नजदीक हैं। यही वजह भी उनके प्रधानमंत्री मोदी के करीब होने की है क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी अमित शाह की बात नहीं टालते इसलिए उन्हीं के कहने पर मिश्रा को महत्व देते हैं।

2. अजीत डोभाल, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार

सर्जिकल स्ट्राईक के बारे में बच्चा बच्चा जानता है कि हमारी सेना ने पीओके में अंदर जाकर पाकिस्तान को धूल चटा दिया। लेकिन इसके असली सुत्रधार को बहुत कम जानते हैं। इसके असली सूत्रधार प्रधानमंत्री के सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल है। यह भी पीएमओ कार्यालय के सबसे पॉवरफुल ब्यूरोक्रेटस में से एक तथा प्रधानमंत्री के सबसे करीबी माने जाते हैं। सुरक्षा से संबंधित सभी रणनीति और फैसले इनकी सलाह के बिना सरकार नहीं लेती। इनके प्रधानमंत्री के करीब होने की एक अहम वजह यह भी है कि यह भी आरएसएस विचारधारा से जुड़े है।

3. वित्त मंत्री अरुण जेटली

एनडीए सरकार में मोदी के बाद अगर कोई दूसरे नम्बर के मंत्री है तो वो अरुण जेटली ही है। राजनाथ सिंह और अरुण जेटली में हमेशा दूसरे नम्बर के लिए दावेदारी रहती है लेकिन इसमें अरुण जेटली ही बाजी मारते हैं। नोट बंदी का इतना बड़ा फैसला वित्त मंत्री के सहयोग के नहीं हो सकता था और मोदी अगर किसी पर पूरी तरह से भरोसा कर सकते है तो वो जेटली पर। वित्त मंत्रालय वैसे भी हर किसी को नहीं दिया जाता है।

मोदी की टीम

4. अमित शाह, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष

अमित शाह और मोदी की जोड़ी को कौन नहीं जानता। अमितशाह नरेंद्र मोदी के चाणक्य है। रणनीति अमित शाह ही बनाते हैं प्रधानमंत्री मोदी तो उस पर अमल करते हैं। अपने विरोधियों को अमित ‘शाह’ और मोदी ‘मात’ देते हैं।

मोदी की टीम

ये चार लोगों से बनती है मोदी की टीम – इन लोगों की मेहनत और प्रधानमंत्री की इच्छाशक्ति से देश को एक नई राह मिलती है। ये चार वो वफादार सिपाही है जिनके साथ होने से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक उर्जा प्रदान होती है जिसे वो देश के विकास में लगाते हैं।

Article Categories:
राजनीति

Don't Miss! random posts ..