ENG | HINDI

विराट की सेना ने जीत ली लंका !

team-india

मंगलवार को भारतीय क्रिकेट टीम ने 22 साल बाद एक ऐसा कारनामा कर दिखाया जिसका सालों से इंतज़ार किया जा रहा था.

भारत की मौजूदा युवा टीम ने श्रीलंका के साथ चल रही तीन टेस्ट मैच की सीरीज़ का आखिरी टेस्ट मैच जीत कर श्रीलंका की टीम को उसी के घर में मात देकर सीरीज़ भी अपने नाम कर ली हैं. भारत ने इस मैच में श्रीलंका की टीम को 117 रनों से हराया और सीरीज़ 2-1 से अपने कब्ज़े में कर ली.

सीरीज़ की इस जीत के साथ ही भारतीय टीम की विदेशी ज़मीन पर यह 16वीं जीत हैं.

सीरीज़ की इस पूरी जीत में भारत की ओर से बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने 233 बनाएं. भारत की तरफ से सर्वाधिक रन बनाने वाले विराट ने ही इस जीत की नीव रखी. उन्होंने 3 टेस्ट मैचों की सीरीज़ में 38.83 के औसत से यह रन बनाये हैं. विराट ने अपने इस प्रदर्शन में 1 शतक और 1 अर्धशतक शतक लगा कर भारत की जीत को सुनिश्चित कर दिया.

भारत को मिली इस जीत में विराट के अलावा भारतीय टीम के कई अन्य खिलाड़ियों ने भी योगदान दिया जिसमे गेंदबाज़ों ने अच्छा खेल दिखातें हुए भारत की जीत पक्की कर दी. आखिरी टेस्ट मैच में भारतीय टीम के तेज़ गेंदबाज़ ईशांत शर्मा कपिल देव, जवागल श्रीनाथ, और जहीर खान के बाद 200 विकेट पुरे करने वाले चौथे गेंदबाज़ बन गए हैं.

इशांत शर्मा ने इस मैच में 32 रन देकर 3 विकेट लिए.

भारतीय गेंदबाज़ों में इशांत के अलावा आर अश्विन और अमित मिश्रा ने भी अच्छी गेंदबाज़ी करते हुए श्रीलंकाई बल्लेबाज़ों को ज्यादा देर टिकने ही नही दिया. अश्विन ने अपनी गेंदबाज़ी में 69 रन देकर श्रीलंका के 4 विकेट लिए वही अमित मिश्रा ने श्रीलंका के बल्लेबाज़ों की साझेदारी वक़्त-वक़्त पर तोड़ कर भारत को पुरे मैच में मजबूत बनाये रखा. मैच के बाद चेतेश्वर पुजारा को मैन ऑफ़ द मैच दिया गया और आर अश्विन मैन ऑफ़ द सीरीज़ घोषित किये गए.

अपनी इस जीत के बाद भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि 22 साल श्रीलंकाई ज़मीन पर इतिहास रचने का एहसास लाजवाब हैं. शुरुआत में हम 0-1 से पीछे थे लेकिन जब हमें पता चला कि 22 साल से हमने श्रीलंका में कोई सीरीज़ नहीं जीती हैं तब हमने आखिरी के दो मैचों में वही खेल खेला जिसके लिए हम जाने जाते हैं.

हमारी टीम में अधिकतर युवा खिलाड़ी हैं उन्हें इस तरह के खेल का कोई अनुभव नहीं हैं जब कि हरभजन हम सब में सीनियर हैं जिसका हमें हर वक़्त लाभ मिला और जीत के बाद बहुत अच्छा महसूस हो रहा हैं. चेतेश्वर ने मौके का अच्छा फायदा उठाया और अपना बेहतरीन प्रदर्शन किया जो हमारी जीत का आधार बन पाया.

भारत की इस जीत के बाद टीम से यही उम्मीद हैं कि वह इस तरह के प्रदर्शन को आगे भी बनाये रखे और ऐसे ही मैच जीतते रहे.

Don't Miss! random posts ..