ENG | HINDI

तमिलनाडु के त्रिची में नाबालिग से निर्भया जैसी दरिंदगी

तमिलनाड़ु का निर्भाया कांड – देश भर में लगातार एक के बाद एक हो रहे निर्भया कांडों ने जहां एक ओर लड़कियों के लिए भय का महौल बना दिया है, वहीं दूसरी ओर लड़कियों के माता-पिता की रूह को झंझौरना शुरू कर दिया है।

अभी तक लोग निर्भया कांड, आसिफा कांड जैसे दिल दहला देने वाले संगीन मामलों को ही नंही भूला पाये थे कि तमिलनाडू़ के त्रिची में एक नाबालिक बच्ची के साथ हुए निर्भया कांड ने लोगों को हिला दिया है।

क्या है तमिलनाड़ु का निर्भाया कांड का मामला

तमिलनाड़ू के त्रिची में 14 साल की नाबालिक लड़की से 6 महीनें तक गैंग रेप करने की हैवानियत का खुलासा हुआ है। त्रिची में हुए इस निर्भया कांड जैसी वीभत्स गैैंगरेप कांड की घटना ने लोगों को दहला दिया है। खबरों के मुताबिक यह घटना तमिलनाड़ु के त्रिची के तंजावुर जिले में तिरूवयुरू की है, जहां परिवार के पड़ोस में रहने वाले  पांच हैवानों ने 6 महीनें तक एक नाबालिक के साथ रेप की वारदात को अंजाम दिया। इतना कुछ करने के बाद भी उन हैवानों की रूह नहीं कांपी, ना उनके जमीर ने उन्हें कोसा… इसके बाद उन दंरिंदों ने उस 14 साल की नाबालिक बच्ची पर पहले चोरी का इल्ज़ाम लगाया और फिर उसके कपड़े उतरवाकर उसके साथ मारपीट भी की। हद तो यह थी कि इस घटना के दौरान उन हैवानों के साथ एक महिला आरोपी भी शामिल थी। फिलहाल पुलिस ने नाबालिक को पीटने वाले सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

यह पूरा मामले 6 महीने पुराना यौन उत्पीड़न का मामला है, जिस पर 14 साल की नाबालिक बच्ची के पिता ने बीते सोमवार को पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसके बाद उन लड़कों ने बच्ची पर मोबाइल और कैश चोरी का आरोप लगाते हुए 18 अक्टूबर को उसकी बांधकर डंडो से कई घंटो तक पिटाई की। इस मामले में पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गए पांचो आरोपियों की पहचान कन्नन उर्फ गोपालकृष्णन (21), शिवकुमार (35), विद्या (28), महेन्द्र और एक 16 साल के लड़के को गिरफ्तार किया है।

इस मामले से जुड़े इन्सपेक्टर पी सुगुना ने बताया कि किस तरह इन हैवानों ने नाबालिक बच्ची के साथ  6 महीनें तक लगातार हैवानियत की और उसके बाद एक दिन पीड़िता को बांधकर पीटा। बच्ची किसी तरह इन हैवानों के चंगुल से भागने में कामयाब हो गई और भागकर केले की झाड़ियों में छिपकर बैठ गई। बच्ची ने वहीं से छिपकर अपने पिता को कॉल कर वहां बुलाया। जिसके बाद पिता ने बच्ची के साथ हुई हैवानियत की जानकारी पुलिस को दी। इन्सपेक्टर ने बताया कि बच्ची के शरीर पर 13 जगह पर गहरी चोटें आई हैं। फिलहाल बच्ची को सरकारी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करा दिया गया है।

तमिलनाड़ु का निर्भाया कांड

नाबालिक आरोपी ने खुद सुनाई अपनी हैवानियत की दास्तान

इस सभी आरोपियों ने एक 16 साल का नाबालिक आरोपी भी शामिल है। निर्भया कांड की तरह इस मामले में भी बच्ची के साथ हुई हैवानियत के लिए सबसे बड़ा आरोपी नाबालिक बच्चा ही है, जिसने खुद अपनी हैवानियत की दास्तान पुलिस को सुनाई और बताया कि बीते 6 महीनें से वह हर रोज उस बच्ची के साथ रेप करता था। जब दूसरे आरोपियों को इस बारे में पता चला तो उन्होंने भी उसका यौन शोषण करना शुरू कर दिया।

तमिलनाड़ु का निर्भाया कांड – फिलहाल पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए सभी आरोपियों के खिलाफ आईपीसी और पोक्सो ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Don't Miss! random posts ..