ENG | HINDI

दिल्ली हिंसा के दौरान ताहिर हुसैन आप के नेताओं से क्या बात कर रहा था, हकीकत आपको हैरान कर देगी

दिल्ली में हुए दंगों के अंदर जिस तरीके से आम आदमी पार्टी के नेता ताहिर हुसैन का नाम आया है तो उसी के पास से ही लगातार ताहिर हुसैन के फोन को खुफिया एजेंसी ट्रेस कर रही हैं. आम आदमी पार्टी ने अब सीधे-सीधे ताहिर हुसैन से अपने सभी संबंध खत्म करते हुए इनको पार्टी से बाहर कर दिया है लेकिन इसके बावजूद भी आम आदमी पार्टी का दामन इन दंगों के काले दागों से अछूता नहीं रह सकता.

सूत्रों के हवाले से यंगिस्थान के रिपोर्टर को यह मालूम चला है कि ताहिर हुसैन जो कि चांदबाग से निगम पार्षद हैं, वह आम आदमी पार्टी के कई बड़े नेताओं से लगातार संपर्क में था. आम आदमी पार्टी के नेताओं को यह निगम पार्षद लगातार यहां के हालातों की एक-एक जानकारी दे रहा था. इलाके में क्या हो रहा है, किस तरीके से आगजनी की जा रही है, भीड़ क्या कर रही है और आगे यह नेता क्या करना चाहता है यह सारी जानकारी लगातार ताहिर हुसैन अपने आकाओं को दे रहा था.

ताहिर हुसैन आम आदमी पार्टी के कई बड़े मुस्लिम नेताओं से लगातार संपर्क में था और लगातार बातचीत कर रहा था सूत्रों ने हमें यह तो नहीं बताया है कि ताहिर हुसैन किन नेताओं से बात कर रहा था लेकिन जिस तरीके की यह बातचीत लगातार आम आदमी पार्टी के नेताओं से कर रहा था उसके बाद आम आदमी पार्टी के दूसरे कई बड़े नेताओं के ऊपर भी कार्यवाही की जा सकती है.

ताहिर हुसैन ने आम आदमी पार्टी के एक बड़े नेता से एक बार यहां के हालातों पर जरूर बात की थी और उन्हें यह बताना चाहता था कि जल्द ही वह अपना घर छोड़कर कहीं और जा रहा है. खुफिया एजेंसी का ऐसा मानना है कि बातचीत में कहीं भी ताहिर हुसैन डरा हुआ नजर नहीं आ रहा है, ना ही उसको इस बात का किसी भी तरीके का कोई खौफ सता रहा है कि इलाके में अब दंगे और हिंसा भड़क चुकी है.

निर्भया केस: पवन जल्लाद दोषियों को फांसी देने जेल आया, कल इतने बजे का समय हुआ पक्का

Article Tags:
Article Categories:
इतिहास

Don't Miss! random posts ..