ENG | HINDI

दाऊद इब्राहिम का होटल क्यों खरीदना चाहता था ये हिंदू नेता !

स्वामी चक्रपाणी

कहते हैं अगर किसी का खौफ खत्म करना हो तो सबसे पहले उसकी कोई चीज उसे दूर कर दो और ऐसा ही कुछ करने जा रहे हैं हिंदू नेता स्वामी चक्रपाणी ।

स्वामी चक्रपाणी हमेशा से अपनी तीखी सोच और तेज वार के लिए जाने जाते हैं। वाद- विवाद हो या फिर राजनीति या फिर असल जिंदगी की लङाई, स्वामी  चक्रपाणी सीधा दिल पर वार करते हैंऔर अपने इसी अंदाज की वजह से स्वामी चक्रपाणी एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं।

दरअसल स्वामी चक्रपाणी ने इस बार फिर एक बार सीधे सीधे अंडवल्ड डाॅन दाऊद इब्राहिम से पंगा ले लिया है। दाऊद इब्राहिम का मुबंई का होटल रौनक अफरोज जो दिल्ली जायका के नाम से मशहूर है सरकार  ने हाल ही में उसकी नीलामी की । जिस पर निलामी से पहले स्वामी चक्रपाणी ने दावा किया था कि वो इस होटल को खरीदकर यहाँ पब्लिक टॉयलेट  बनाएंगे ।स्वामी चक्रपाणी का ये बयान जितना कोन्ट्रोवर्सल था उतना ही अजीब भी।

क्योंकि इस होटल की बोली करोङो में लगने वाली थी । और स्वामी करोङो का होटल खरीदकर इसे पब्लिक टॉयलेट में बदलना चाहते हैं। लेकिन हम आपको बता दें इस होटल को बनाने के पीछे स्वामी की एक गहरी सोच छिपी थी।

दरअसल स्वामी का मानना है कि सरकार ने लोगों के सामने अजीब अजीब तथ्य रखकर उनके दिल में दाऊद इब्राहिम के खिलाफ खौफ पैदा कर दिया है।जिसे वो मिटाना चाहते हैं। जिस वजह से वो उनके होटल को नष्ट कर वहाँ लोगों के लिए पब्लिक टॉयलेट  बनाना चाहते थे

हम आपको बता दें होटल जायका को इसे पहले भी सरकार नीलाम कर चुकी है उस वक्त एक पत्रकार ने इसे 4 करोङ 28  लाख में खरीदा था लेकिन वक्त पर पूरी राशि न दिए जाने के कारण इस होटल की नीलामी दोबारा की गई. इस बार भी इसे इसी दाम पर बेचा गया । लेकिन  चक्रपाणी इसे खरीद नही पाए क्योंकि उनका कहना है कि वो एक संत है और उनके पास इतनी बङी रकम नही थी । लेकिन वो खुश हैं नीलामी अच्छे से हुई । जिसे लोगो में दाऊद इब्राहिम का डर ओर कम हो गया।

दाऊद इब्राहिम की जिन संपत्तियों की नीलामी हो रही है उन्हें सरकार  स्‍मगलर्स एंड फॉरेन एक्‍सचैंज मैनिपुलेटर्स एक्‍ट, 1976  के  सील कर रही है। स्वामी चक्रपाणी ने इसे पहले दाऊद इब्राहिम की कार को 32 हजार में खरीदकर आग के हवाले कर दिया था। जिसके बाद स्वामी चक्रपाणी को मारने की साजिश भी रची गई थी।

Don't Miss! random posts ..