ENG | HINDI

यहाँ शादी बारात में चोरी करने पर मिल रहा है 12 लाख का पैकेज

शादी बारात में चोरी

शादी बारात में चोरी – आजकल बच्‍चों के लिए एक नया कोर्स शुरु हुआ है जिसके तहत उन्‍हें ट्रेनिंग देकर शादी- बारात में उनसे चोरी करवाई जाती है।

इन मासूम बच्‍चों की बोली लगाकर इन्‍हें चोरी के काम पर लगा दिया जाता है।

दिल्‍ली में ऐसे 70 बच्‍चों को लाया गया जो यहां के बड़े-बड़े फार्म हाउसों और बैंक्‍वेट हॉल में चोरी की वारदातों को अंजाम देते हैं। इन बच्चों को पहले शगुन का बैग चुराने की ट्रेनिंग भी दी जाती है।

शादी बारात में चोरी – यहां से लाते हैं बच्‍चे

हाल ही में साउथ-वैस्ट में हुई चोरी में पुलिस ने रॉका नाम के एक अपराधी को पकड़कर उसके गैंग बैंड-बाजा-बारात का पर्दाफाश किया है। गिरफ्तारी के बाद रॉका ने बताया कि वह इस गैंग का लीडर हैं और मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के ऐसे तीन गांव हैं जहां पर 7 से 15 साल के बच्चों को दुल्हन पक्ष का कीमती सामान चुराने की ट्रेनिंग दी जाती है।

शादी बारात में चोरी के लिए बच्‍चों की लगती है बोली

राका ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि दिल्ली-एनसीआर में सक्रिय विभिन्न गैंग लीडर मध्य प्रदेश के तीन गांव से हाल ही में 70 बच्चों को यहां लाए हैं। इन बच्चों को यहां लाने के बाद इनके माता-पिता को काफी मोटी रकम दी जाती है। 6 महीने से लेकर 1 साल तक का कॉन्ट्रैक्ट होता है जिसमें बच्चों की बोली 2 लाख से लेकर 12 लाख तक लगाई जाती है। दिल्ली पुलिस ने यह भी पता लगाया है कि ऐसे बच्चों की मांग केवल दिल्ली-एनसीआर में ही नही बल्‍कि मुम्बई और राजस्थान के जयपुर और उदयपुर जैसे शहरों में भी बढ़ने लगी है।

ये लोग काम को पूरी प्लानिंग के साथ अंजाम देते हैं। इसमें बच्चों के साथ एक जवान व्‍यक्‍ति और एक बुजुर्ग आदमी भी होता है ताकि वह किसी के रिश्तेदार लगें।

यहां तक कि गैंग का एक सदस्य बैंक्‍वेट हॉल के बाहर खडा रहता है जहां से इस घटना को अंजाम दिया जाता है।

Don't Miss! random posts ..