ENG | HINDI

शुक्राचार्य ने बताई थी ये 8 बातें जिन्हें गुप्त रखने में ही है इन्सान की भलाई !

शुक्राचार्य

दैत्य गुरु शुक्राचार्य एक महान और बुद्धिमान गुरू थे. उन्होंने मनुष्य के जीवन से जुड़ी कई बातें और नीतियां बताई है जिनका जिक्र शुक्रनीति में मिलता है.

शुक्रनीति के अनुसार स्वयं शुक्राचार्य ने ये बताया है कि हर इंसान के जीवन से जुड़ी कुछ निजी बातें होती हैं जिन्हें गुप्त रखने में ही इंसान की भलाई है नहीं तो भविष्य में इन बातों के चलते कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है.

तो चलिए हम आपको बताते हैं कि वो कौन सी बाते हैं जिन्हें शुक्रनीति के अनुसार सबसे छुपाकर ही रखना चाहिए.

1- अपने अपमान की बात को रखें गुप्त

इंसान के जीवन में कभी ना कभी वो पल आता है जब उसे किसी वजह से अपमान झेलना पड़ता है. अगर किसी ने आपका अपमान किया है तो शुक्रनीति के अनुसार इस बात को गुप्त रखने में ही आपकी भलाई है. अगर आपने अपने अपमान का जिक्र किसी से किया तो हो सकता है कि लोग आपके इस दर्द को समझने के बजाय आपका मजाक बनाने लगें.

2- गुप्त दान की बात किसी से ना बताएं

हिंदू धर्म में गुप्त दान को काफी महत्वपूर्ण बताया गया है. मान्यता है कि जो मनुष्य अपने जीवन में गुप्त रुप से दान करता है उसे देवी-देवताओं की कृपा के साथ ही अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है. अगर आप अपने इस गुप्त दान का गुणगान दूसरों के सामने करेंगे तो इससे आप पुण्य का भागीदार बनने से वंचित रह सकते हैं.

3- किसी को ना बताएं अपनी आर्थिक स्थिति

आज के इस दौर में जिस व्यक्ति के पास दौलत और शोहरत है उससे हर कोई दोस्ती और रिश्तेदारी रखना चाहता है. अगर किसी विषम परिस्थिति के चलते आपको आर्थिक नुकसान हो गया है और आपको धन हानि का सामना करना पड़ रहा है तो इस बात को गुप्त रखने में ही समझदारी है.

अगर आपने अपनी माली हालत के बारे में किसी को बताया तो लोग आपकी मदद करने के बजाय आपसे दूरियां बना लेंगे. इसके अलावा अगर आप धनवान हैं और आपके पास बहुत धन है तो इस बात को भी गुप्त ही रखें.

4- घर के झगड़ों को घर तक ही रखें

आज के इस दौर में अधिकांश घरों में परिवारों के बीच आपसी विवाद या झगड़े होते रहते हैं. घर में परिवार के सदस्यों के बीच झगड़ा होना बहुत ही आम है. लेकिन अपने घर के झगड़े को घर तक ही सीमित रखना चाहिए.

अगर आपने अपने घर के झगड़े के बारे में बाहरी व्यक्ति को बताया तो इससे समाज में आपके परिवार की इमेज खराब हो सकती है और इस झगड़े का फायदा उठाकर कोई बाहरी व्यक्ति आपके परिवार का अहित भी कर सकता है.

5- गुरू मंत्र को रखें सबसे छुपाकर

अगर आपने किसी गुरु से कोई मंत्र लिया है तो इस मंत्र के बारे में किसी को ना बताएं. गुरु मंत्र की खासियत ही यही है कि ये तभी सिद्ध होते हैं जब इन्हें गुप्त रखा जाता है. मान्यता है कि गुरु द्वारा दिए गए मंत्रों को गुप्त रखकर उसका जप करने से जल्दी ही शुभ फल प्राप्त होते हैं.

6- अपनी सेक्स लाइफ को रखें सीक्रेट

पति-पत्नी के रिश्तों में प्यार और लगाव बनाए रखने में सेक्स अहम भूमिका निभाता है. हालांकि ये पति-पत्नी के वैवाहिक जीवन की एक ऐसी क्रिया है जिसके लिए एकांत का खास ख्याल रखा जाता है.

औरत हो या मर्द उन्हें अपनी सेक्स लाइफ को हमेशा सीक्रेट ही रखना चाहिए. अपनी सेक्स लाइफ को किसी से शेयर करने से बचें. क्योंकि अगर आपने इसके बारें में किसी को बताया तो इससे आपके चरित्र और सामाजिक जीवन पर अच्छा प्रभाव नहीं पड़ता है.

7- अपनी पद प्रतिष्ठा का दिखावा ना करें

अगर आप नौकरी धंधे में किसी बड़े पद पर आसीन हैं तो आपकी इस पद प्रतिष्ठा के चलते समाज में आपको बहुत मान-सम्मान मिलेगा लेकिन आपको अपनी पद प्रतिष्ठा का दिखावा करने से बचना चाहिए.

आप किसी दूसरे व्यक्ति के सामने अगर इसका दिखाना करेंगे तो ऐसा करने से आपके मन में अहंकार की भावना जन्म ले सकती है और अहंकार ही इंसान के पतन का कारण बनता है.

गौरतलब है की शुक्रनीति के अनुसार अगर किसी भी इंसान ने इन बातों को दूसरों से कह दिया या उन्हें बता दिया तो उसे इसके लिए बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ सकता है. इसलिए अगर आप समाज में मान-सम्मान के साथ सुखी जीवन जीना चाहते हैं तो शुक्राचार्य द्वारा बताई गई इन बातों को हमेशा गुप्त रखें.

Don't Miss! random posts ..