ENG | HINDI

लगातार 25 फिल्मे फ्लॉप देने के बाद भी सुपरस्टार कहलाया ये एक्टर!

अभिनेता शम्मी कपूर

आज के समय में जहाँ बॉलीवुड में एक-दो फ्लॉप देने के बाद ही किसी एक्टर को फ्लॉप का तमगा दे दिया जाता है ऐसे में किसी से भी सुपरस्टार बनने की अपेक्षा रखना ही व्यर्थ है.

हालाँकि ये आज की बात है लेकिन क्या आप जानते है बॉलीवुड में एक ऐसा सुपरस्टार भी हुआ है, जिसने एक-दो नहीं बल्कि लगातार 25 फ्लॉप फ़िल्में दी थी. जी हाँ 25 फ्लॉप देने के बाद भी सुपरस्टार कहलाने वाले इस एक्टर की कहानी बड़ी दिलचस्प है.

हम बात कर रहे है दिवंगत अभिनेता शम्मी कपूर की. शम्मी कपूर को बॉलीवुड में अपने खास डांस स्टाइल को स्थापित करने का श्रेय जाता है और उसे शम्मी कपूर स्टाइल कहा जाता है.

हालाँकि अभिनेता शम्मी कपूर शुरुआत में एक्टर नहीं बनना चाहते थे उनका सपना तो एरोनॉटिकल इंजीनियर बनने का था. लेकिन पढाई में उनका हाथ तंग था, इसलिए फाइनली डिसाइड हुआ की एक्टिंग ही करेंगे. पृथ्वीराज कपूर के बेटे थे इसलिए उन्होंने पृथ्वी थिएटर ज्वाइन कर लिया जिसके लिए उन्हें बतौर मेहनताना 50 रूपये मिलते थे. यहाँ 5 सालों तक एक्टिंग सीखने के बाद उन्होंने 1953 में फिल्म ‘जीवन ज्योति’ से बॉलीवुड में डेब्यू किया. लेकिन उनकी शुरूआती फ़िल्में फ्लॉप होने लगी और ये सिलसिला 25 फिल्मों तक चला. शुरुआत में उन्हें कहा जाता था कि वे राजकपूर जैसी ही एक्टिंग करते है. लेकिन उसके बाद से जब शम्मी कपूर ने अपने लुक और स्टाइल में बदलाव किया तो एक ऐसा शम्मी सामने आया जो एक आइकोनिक स्टाइल में बदल गया और लोग उसे फॉलो करने लगे.

शुरुआत में भले ही अभिनेता शम्मी कपूर की फ़िल्में फ्लॉप रही लेकिन गीता बाली से शादी करने के बाद उनकी लगातार फ़िल्में हिट होने लगी. उनकी नासिर हुसैन के साथ अच्छी जमी और इन दोनों ने मिलकर कई हिट फ़िल्में दी.

शम्मी साहब की हिट फिल्मों में ‘तुमसा नहीं देखा’, ‘दिल देके देखों’, ‘जंगली’, ‘उजाला’, ‘चाइना गेट’, ‘ब्लफमास्टर’, ‘कश्मीर की कली’, ‘जानवर’, ‘ब्रह्मचारी’, ‘तुमसे अच्छा कौन है’ और ‘एन इवनिंग इन पेरिस’ जैसी कई फ़िल्में थी जो कि सुपरहिट साबित हुई.

Don't Miss! random posts ..