ENG | HINDI

कहाँ भगत सिंह जी और कहाँ आज का युवा

दौर बदल गया है, वक़्त भी बदल गया है और बदल गया है हमारा युवा भी.

हम आज भगत सिंह को तो मानते हैं पर कभी अपनी जिन्दगी की तुलना उनसे कभी नहीं करते हैं.

आज शहीद भगत सिर्फ हमारी काल्पनिक दुनिया में हैं ,वास्तविक दुनिया में नहीं हैं. 

1. आज का बचपन और भगत सिंह जी का बचपन

आज के बच्चों का बचपन जहाँ कंप्यूटर और वीडियो गेम्स में गुजरता है. 8 साल का बच्चा अब हनी सिंह का फैन तो है, पर देश भक्तों को बस स्कूल तक रखते हैं.

वहीँ बचपन से ही भगत जी क्रांतिकारियों की जीवनी पढ़ते थे और दोस्तों के साथ खेल भी , अंग्रेजों को भगाने वाले खेलते थे.

बचपन में अपने पिता के साथ खेत पर जाना और वहां जमीन में एक हथियार को दबाना और बोलना कि कल इसका पेड़ आएगा और हम पर अंग्रेजों को भगाने के लिए हथियार मिलेंगे.

shahid-bhagat-singh

1 2 3 4 5 6 7

Article Categories:
विशेष

Don't Miss! random posts ..