ENG | HINDI

वह धर्म जिसमे होती है सेक्स की पूजा, बड़े-बड़े हॉलीवुड स्टार हैं इसके अनुयायी !

साइंटोलॉजी

साइंटोलॉजी – इस धर्म मे किसी ईश्वर की पूजा नहीं होती.

इस धर्म को पालन करने वाले को अपने सगे-संबंधियों से दूर जाना होता है और अपने आप को पूरी तरह से स्वछंद करना रहता है.

इस धर्म का अनुयायी किसी से भी सेक्स संबंध बनाने के लिए मुक्त रहता है. इस धर्म में सेक्स को टैबू नहीं माना जाता बल्कि अधिक से अधिक सेक्स करने के लिए प्रोतसाहित किया जाता है.

कई हॉलीवुड स्टार्स इस धर्म का पालन करते हैं. इस धर्म का नाम है साइंटोलॉजी.

क्या है साइंटोलॉजी

इसकी शुरुआत वर्ष 1955 में एल. रॉन हबॉर्ड ने किया था. इस धर्म के केंद्र में इलेक्ट्रोसाइकोमीटर या ई-मीटर नाम का एक यंत्र है. इस धर्म के अनुयाइयों का विश्वास है कि इस यंत्र से आत्मा, भावना और मस्तिष्क को मापा और उसका आकलन किया जा सकता है.

इस धर्म में 30 साल से कम उम्र के लोग ही शामिल हो सकते हैं. इस धर्म का सदस्य बनने के लिए पहले एक ट्रेनिंग से गुजरना होता है. इस ट्रेनिंग के दौरान व्यक्ति के शरीर में ई-मीटर के द्वारा बिजली का ह्लका करंट दौड़ाया जाता है और उनसे कई तरह के सवाल पूछे जाते हैं. यह सवाल व्यक्ति के मनो स्थिति को समझने के लिए पूछे जाते हैं. जैसे – क्या आपको लगता है कि आप पागल हो सकते हैं? क्या आपको अपने मां-बाप पर शर्म आती है?

इस धर्म के अनुयाईयों को पहले सी ऑर्गेनाइजेशन नाम के एक संस्था में रखा जाता है. यहां उन्हें अपने परिवार, दोस्तों और करीबियों से मिलने की मनाही होती है. माना जाता है कि ऐसा करने से उनकी आत्मा और शरीर शुद्ध हो जाती है. इस धर्म के कई पूर्व सदस्य इसे अब महज अंधविश्वास कहकर खारिज करते हैं लेकिन कई हॉलीवुड स्टार्स इस धर्म के पक्के अनुयाई हैं.

साइंटोलोजी के प्रसिद्ध अनुयाई

टॉम क्रूज

मशहूर हॉलीवुड एक्टर टॉम क्रूज साइंटोलोजी को मानते हैं.  वे अपनी बेटी सूरी को भी इस धर्म में शामिल करवाना चाहते थे. यह सूरी की मां केटी होम्स को मंजूर नहीं था जिस वजह से उन्होंने टॉम क्रूज से तलाक ले लिया.

जेनिफर लॉपेज

हॉलिवुड गायिका और अभिनेत्री जेनिफर लॉपेज और उनके गायक पति इस धर्म को मानते हैं.

इस धर्म में अस्पताल और डॉक्टरों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले औजार को अच्छा नहीं माना जाता इसलिए जेनिफर लॉपेज ने बिना किसी दवाई के, प्रसव की प्राकृतिक पीड़ा को महसूस करते हुए बच्चे को जन्म दिया था.

साइंटोलॉजी धर्म की शाखाएं विश्व में हर जगह फैली हुई है. इस धर्म का दर्शन के मूल मे मनुष्य को अपनी असली पहचान को पाना और हर तरह के बंधनों से मुक्त होना है.

Don't Miss! random posts ..