ENG | HINDI

इस तरह आप मौत को दे सकते हैं धोखा, वैज्ञानिकों ने किया सफल परीक्षण

मौत को धोखा

मौत को धोखा – अमर होने के लिए इतिहास में लोगों ने क्या क्या नहीं किया। पौराणिक कथाओं में अमर होने के लिए कितने ही कठिन तप किये जाते थे लेकिन तब भी उन्हें अमर होने का वरदान नहीं मिलता था।

आज भी अगर किसी से पूछा जाए कि क्या वो अमर होना चाहता हैं तो हर कोई इसकी इच्छा जाहिर करेगा।

सिर्फ अमर होना ही नहीं बल्कि 30 साल के बाद ढ़लती उम्र को भी हर इंसान रोकना चाहता हैं लेकिन यह किसी के बस में नहीं है। जो आया हैं वो जाएगा। यही अबतक होता रहा है। लेकिन कैलिफोर्निया के शोधकर्ता ब्रिटन ऑब्रे द ग्रे ने इस बात का दावा किया हैं भविष्य में यह मुमकिन है।

ग्रे ने चूहों पर ऐसा ही एक परीक्षण किया जिसमें उन्हें कामयाबी मिली हैं जिसके बाद उन्हें उम्मीद हैं इंसानों में भी इसे संभव बनाया जा सकता है।

शोधकर्ता का मानना हैं कि रक्त में जीवित रहने का उपचार मौजूद हैं। खून मे ऐसे अवयव पाये जाते हैं जो इंसान को जीवित और युवा बनाए रखने के लिए जिम्मेदार हैं। अगर बुजुर्ग के प्लाजमा को निकालकर उनके रक्त में किसी युवा के प्लाजमा को पहुंचा दिया जाए तो बुजुर्ग पर उम्र ढ़लने का प्रभाव कम होने लगेगा। इस तरह से मौत को धोखा दिया जा सकता है.

चूहों पर सफल परीक्षणः

स्टेनफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने बुजुर्ग चूहों के शरीर में युवा चूहों का रक्त चढ़ाया। इसके बाद बुजुर्ग चूहों में तंत्रिका तंत्र से जुड़ी विकृतिया ठीक होने लगी और उसके उम्र पर भी असर दिखने लगा।

बाद में कैलिफोर्निया की ही एक बायोटेक कम्पनी ने 18 साल के युवा के रक्त प्लाजमा को बुजुर्ग चूहों को चढ़ाया। इसमें भी उन्हें समान प्रभाव देखने को मिला।

इस दोनों परीक्षणों के बाद शोधकर्ताओं की उम्मीद हैं कि अगर युवा इंसान के रक्त प्लाजमा को बुजुर्ग के खून में डाल दिया जाए तो इससे उम्र बढ़ने को तो रोका जा ही सकता हैं साथ ही इससे इंसान को मौत से छूटकारा भी मिलेगा।

इस तरह से मौत को धोखा दिया जा सकता है – इसके लिए अभी और शोध की जरुरत हैं लेकिन उन्हें इसमें सफलता की उम्मीद हैं। अगर ऐसा होता हैं तो यह वैज्ञानिकों की सबसे बड़ी कामयाबी होगी।

Article Categories:
जीवन शैली

Don't Miss! random posts ..