ENG | HINDI

शनि के राशि परिवर्तन से होनेवाला है इन राशियों को फायदा !

शनि का राशि परिवर्तन

शनि का राशि परिवर्तन – नवग्रहों में दंडाधिकारी ग्रह शनि का आगामी 27 जनवरी 2017 से धनु राशि में परिवर्तन हो रहा है. जाहिर है शनि का यह राशि परिवर्तन कुछ राशियों के लिए शुभ फलदायक होगा तो कुछ लोगों के लिए यह कष्टदायक भी हो सकता है.

तो आइए जानते हैं शनि का राशि परिवर्तन किस किस राशी पर  कैसे कैसा प्रभाव पड़नेवाला है.

शनि का राशि परिवर्तन –

1 – मेष

मेष राशि में नवम शनि यानी शनि की ढ़ैय्या का अंत हो गया है. इस राशिवालों के लिए शनि का यह राशि परिवर्तन हर तरह से अनुकूल और स्वास्थ्य प्रदान करनेवाला है.

आपका आलस्य समाप्त होगा और सभी कार्य तेजी से आगे बढ़ेंगे. अच्छी आय के साथ ही तरक्की के संकेत भी दिखाई दे रहे हैं. यह समय बेरोजगारों के लिए काफी अनुकूल है क्योंकि उन्हें रोजगार के सुनहरे अवसर प्राप्त होंगे.

उपाय- हनुमानजी को घी का दीपक अर्पण करें.

2 – वृषभ

वृषभ राशि में शनि अष्टम होगा इसके साथ ही इस राशि पर शनि की ढ़ैया का प्रभाव देखने को मिलेगा. शनि के इस राशि परिवर्तन से वृषभ राशि वालों को जरा संभलकर रहने की जरूरत है.

इस दौरान किसी भी तरह के विवाद से खुद को दूर रखें. वाहन चलाते वक्त सावधानी बरतें और जोखिम भरे कामों में हाथ डालने से बचें. पूंजी-निवेश करने और किसी को उधार देने से बचें.

उपाय- हनुमानजी और गणेशजी की सेवा करें.

3 – मिथुन

मिथुन राशि से सप्तम शनि इस राशि को किसी भी तरह के बुरे प्रभाव से बचाएगा. शनि का यह राशि परिवर्तन मिथुन राशि के लिए हर तरह से अनुकूल रहेगा और यह समय धन लाभ के साथ किसी बड़ी मुसीबत से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित होगा.

आपकी योजनाएं फलीभूत होंगी और जिन लोगों की शादी में देरी हो रही है. शनि का यह राशि परिवर्तन उन लोगों का विवाह कराने में भी सहायक सिद्ध होगा.

उपाय- बुजुर्गो को कोई उपहार भेंट करें.

4 – कर्क

कर्क राशि में षष्ठम एवं मित्र शनि सम्मान आपको दिलवाएगा और यह आपको कई कार्यो को करने के लिए सक्षम भी बनाएगा.

नौकरी के लिए अच्छे अवसर प्राप्त होंगे और आपके वर्तमान कार्यों में भी तेजी आएगी. धन के आगमन के लिए नए स्रोत खुलेंगे. परिवार में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा और आपके सभी बिगड़े काम भी बनेंगे.

उपाय- गणेशजी की सेवा करें.

5 – सिंह

शनि का यह राशि परिवर्तन सिंह राशि के लिए काफी राहत लेकर आ रहा है. इस राशि से शनि के ढ़ैय्या का प्रभाव खत्म होगा और करीब 27 महिनों बाद इस राशि के लोग राहत महसूस करेंगे.

इस परिवर्तन से आपको मानसिक शांति प्राप्त होगी और तबीयत में सुधार आएगी. आलस्य से आप पीछा छुड़ा सकेंगे साथ ही रुके हुए कार्य तेजी से आगे बढ़ने लगेंगे और आय में आ रही तमाम बाधाएं भी समाप्त हो जाएंगी. कुल मिलाकर यह समय आपके लिए बहुत अच्छा साबित होनेवाला है.

उपाय- छोटे बच्चों में मिठाई बांटे.

6 – कन्या

शनि का राशि परिवर्तन कन्या राशिवालों को संयम बरतने की सलाह दे रहा है. इस राशि में चतुर्थ शनि यानी शनि की ढै़य्या शुरू होने जा रही है. इसलिए आपको अगले 27 माह तक खुद को संभालना होगा.

इस दौरान क्रोध पर नियंत्रण रखें और जोश में आकर कोई कार्य ना करें. आपकी जिद आपके लिए नुकसानदेह साबित हो सकती है. आय के माध्यमों को शनि बाधित करने का प्रयास करेगा और आपको बचत करने में भी परेशानी होगी.

उपाय- हनुमानजी की सेवा से लाभदायक सिद्ध होगी.

7 –  तुला

तुला राशि में शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव समाप्त हो जाएगा एवं खुशी के मौके प्राप्त होगें. ऐसा लगेगा जैसे आपके सिर से कोई बड़ा बोझ उतर गया है.

आपको अपने अंदर एक नई ऊर्जा और जोश का एहसास होगा. घर-परिवार में खुशियां आएंगी और आय के स्रोतों से फायदा मिलेगा. रुके हुए कार्य पूरे होंगे और नए वाहन, मकान की प्राप्ति हो सकती है.

उपाय- गणेशजी को भोग अर्पण करें.

8 – वृश्चिक

वृश्चिक राशि पिछले कई दिनों से शनि से प्रताड़ित चल रही है. फिलहाल इस राशि पर साढ़ेसाती का असर बना हुआ है लेकिन ये उतरती हुई साढ़ेसाती है. जो आपके लिए लाभदायक है.

शनि के राशि परिवर्तन से आपकी पिछली परेशानियों का अंत होगा और आपके कई कार्य बिना किसी रुकावट के पूरे होंगे. इस दौरान आपकी परेशानियों का अंत होगा और लाभ के रास्ते खुलेंगे.

उपाय- हनुमानजी की उपासना जारी रखें और सभी का आदर करें.

9 – धनु

धनु राशि पर साढ़ेसाती का प्रभाव पहले से ही है और इस राशि में शनि का प्रवेश हो रहा है. धनु राशिवालों के लिए यह समय बेहद सावधानी से चलने का है.

विवादों को टालें और अपनी भाषा पर संयम रखें. किसी भी तरह के निवेश से दूरी बनाएं और किसी भी काम को करने से पहले अनुभवी लोगों की सलाह लेना ना भूलें. आपको सावधान रहने की सलाह दी जाती है.

उपाय- महीने में एक शनिवार को हनुमानजी को चोला चढ़ाएं.

10- मकर

मकर राशि में द्वादश शनि का साढ़ेसाती का प्रभाव आरंभ हो चुका है. हालांकि शनि ही इस राशि के स्वामी हैं फिर भी आपको सचेत रहने की सलाह दी जाती है.

जब तक कोई ठोस आधार न हो जमीन, मकानादि में धन नही लगाएं. निवेश में भी सावधानी रखें. उद्योग और व्यवसाय की स्वयं देखभाल करें. मीठी वाणी का प्रयोग करें एवं सभी का सम्मान करें.

उपाय- हनुमानजी के सामने हर शनिवार तेल का दीपक जलाएं.

11- कुंभ

एकादश शनि एवं स्वयं राशि स्वामी होने से आपको सभी प्रकार की खुशियां मिलेगी. आपके कार्य के मार्ग में आनेवाली सारी बाधाएं दूर होगी और धन लाभ भी होगा.

इस काल में आपकों सभी अच्छे कार्यो की ओर ध्यान देना चाहिए क्योंकि 27 महिनों बाद साढ़ेसाती का प्रभाव इस राशि पर आएगा.

उपाय- सभी का आदर सम्मान करें और दान दें.

12- मीन

शनि के राशि परिवर्तन से मीन राशिवालों को लाभ ही होगा और किसी प्रकार के नुकसान की संभावना भी नही है.

इस राशि के लिए सभी योग अच्छे बने हुए हैं. परिवार से वैचारिक मतभेद समाप्त होगा एवं माता से स्नेह प्राप्त होगा. संतान अनुकूल रहेगी. न्यायालयीन कार्यो में सफलता मिलेगी.

उपाय- सोमवार के दिन शिवलिंग पर दूध से अभिषेक करें.

ये था शनि का राशि परिवर्तन और उससे होनेवाले फायदे. गौरतलब है कि राशि के अनुसार दिए गए इन उपायों को करके आप शनि का राशि परिवर्तन आनेवाले कष्टों से मुक्ति दिला सकते हैं.

Don't Miss! random posts ..