ENG | HINDI

पगड़ी का मज़ाक उड़ाने पर सरदार ने कुछ इस तरह दिया फिरंगी को जवाब, जानकर आ जाएगा मज़ा

पगड़ी का मज़ाक

पगड़ी का मज़ाक – मज़ाक करना यूं तो बुरी बात नहीं है लेकिन कभी भी मज़ाक में कुछ ऐसा नहीं बोल देना चाहिए जिससे किसी इंसान की गरिमा को ठेस पहुंचे या फिर वो बात उसके दिल में घर कर जाएं लेकिन कुछ लोग इस बात को नहीं समझते हैं।

खैर, हर बात किसी को समझाई भी नही जा सकती है और कईं बार ज़रूरी होता है सिर्फ जवाब देना, क्योकि कईं बार आपकी चुप्पी सामने वाले की हिम्मत को और बढ़ाती है और उसे इस बात का कभी एहसास ही नहीं हो पाता कि जो उसने किया है वो गलत है।

ऐसा ही कुछ  इंग्लैंड के अरबपतियों में शुमार NRI बिजनेसमैन रुबेन सिंह के साथ भी हुआ लेकिन उन्होने इस बात का कुछ इस तरह जवाब दिया कि हर कोई हैरान ही रह गया। जी हां, हाल ही में  किसी शख्स ने इनकी पगड़ी का मज़ाक उड़ाते हुए पगड़ी को बैंडेज कहते हुए उसका मजाक उड़ाया। बस इसके बाद क्या, इन्होने उसकी बात को दिल पर ले लिया और उसे जवाब देने की ठानी, लेकिन सबसे खास बात ये है कि इन्होने उस इंसान को जवाब भी कुछ इस तरह दिया कि देखने वाला देखता ही रह जाएं।

इन्होंने अपनी पगड़ी के कलर से मैच करती हुई 7 रॉल्स रॉयस खरीद डालीं। अपनी नई कारों के साथ फोटो पोस्ट करते हुए उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “मेरी पगड़ी मेरा ताज है, मेरी शान है।”

पगड़ी का मज़ाक

तो इस तरह से सरदार जी ने बता दिया कि उनसे पंगा लेना किसी के लिए भी बहुत महंगा साबित हो सकता है और ये भी बता दिया ”सिंह इज़ किंग”, आपको बता दे कि  बिजनेसमैन रुबेन सिंह एक ब्रिटिश बिजनेसमैन हैं। वे ऑलडे PA नाम के कॉल सेंटर के मालिक हैं। इसके अलावा वो ब्रिटिश सरकार में एडवाइजरी पैनल के मेंबर रह चुके हैं।

रुबेन सिंह ने जो कुछ भी कमाया, जो कुछ भी हासिल किया वो अपनी मेहनत के दम पर किया और इसलिए आज वो इस मुकाम पर है। इनका जन्म एक ऐसे परिवार में हुआ था जो बिजनेस से ताल्लुक रखता था। 1970 के दशक में इनके पिता सरबजीत दिल्ली से लंदन आए थे। वे इम्पोर्टेड फैशन एक्सेससरीज के होलसेलर थे। महज 13 साल की उम्र में ये अपने खानदानी व्यवसाय के साथ जुड़़ गए और उसे और ऊंचा उठाने में जी जान से जुट गए।

पगड़ी का मज़ाक

‘मिस एटीट्यूड’ नाम से इनका लेडीज क्लोथिंग, कॉस्मेटिक्स और फैशन एक्सेसरीज का भी अलग बिजनेस है। महज 4 साल में इन्होने इस बिजनेस को शुरू कर इनका टर्नओवर 200 करोड़ तक पहुंचा दिया।

आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन साल 2000 में ‘द संडे टाइम्स’ ने रुबेन सिंह को ‘ब्रिटिश बिल गेट्स’ का टाइटल दिया। उस साल इनकी नेटवर्थ 718 करोड़ रुपए से ज्यादा की मानी जाती है। उनके बिजनेस करने के तरीके, उनकी नॉलेज और मेहनत ने उनके बिजनेस को एक नया आयाम दिया और इसी वजह से वो आज इस ऊंचाई पर हैं।

पगड़ी का मज़ाक – वैसे देशभर में सरदारों को बड़ी इज्‍जत की नज़रों से देखा जाता है क्‍योंकि ये बिना कियी स्‍वार्थ के हर वक्‍त दूसरों की सेवा के लिए खड़े रहते हैं। सरदारों की निस्‍वार्थ सेवा को हमारा सलाम।

Don't Miss! random posts ..