ENG | HINDI

ना चाहते हुए भी आखिर क्यों संजय दत्त को करनी पड़ी मान्यता से शादी !

संजय दत्त मान्यता

बॉलीवुड के मुन्ना भाई अभिनेता संजय दत्त आज अपने दो जुड़वा बच्चों और पत्नी मान्यता के साथ खुशहाल जीवन जी रहे हैं.

हालांकि मान्यता संजू बाबा की तीसरी पत्नी हैं लेकिन इससे पहले उन्होंने रिचा शर्मा और रिया पिल्लई से शादी की थी. रिचा का निधन हो गया है जबकि रिया से उनका तलाक हो चुका है.

सूत्रों के मुताबिक संजय दत्त मान्यता से शादी नहीं करना चाहते थे लेकिन फिर भी उन्हें मान्यता से शादी करनी पड़ी. आखिर संजय के सामने ऐसी कौन सी मजबूरी आ गई थी कि उन्हें ये कदम उठाना पड़ा.

एक पार्टी में संजय दत्त मान्यता से मिले थे 

बताया जाता है कि निर्देशक नितिन मनमोहन की एक पार्टी में संजय दत्त मान्यता ऊर्फ दिल नवाज़ शेख से मिले थे. उन दिनों मान्यता एक स्ट्रगलिंग एक्ट्रेस हुआ करती थीं और सी ग्रेड फिल्मों में काम करती थीं.

पार्टी में मान्यता से मिलने के बाद एक दिन जब उनकी तत्कालीन गर्लफ्रेंड नाडिया घर पर मौजूद नहीं थी तब मौका देखते ही संजय ने मान्यता को घर बुला लिया.

मान्यता भी संजय से अकेले में मिलने का मौका किसी भी हाल में हाथ से जाने नहीं देना चाहती थीं लिहाजा वो वक्त पर संजय के घर पहुंच गईं.

मान्यता और संजय की महफिल रातभर चलती रही. शराब और शबाब के नशे में संजय दत्त इस कदर डूब गए थे कि सुबह तक अपनी गर्लफ्रेंड को भी भूल चुके थे.

मान्यता के हाथों में आ गई थी संजय की कमान

संजय दत्त मान्यता अब अक्सर एक-दूसरे से मिलने लगे थे. बताया जाता है कि मान्यता हर रोज संजय दत्त के घर पहुंच जाती थीं और अपने हाथों से नई-नई डिश बनाकर उनके सामने परोसा करती थीं.

उनकी इन खासियतों के चलते दिन-ब-दिन संजय दत्त मान्यता के करीब होते चले गए और देखते ही देखते संजय की कमान मान्यता के हाथों में आ गई थी.

मान्यता ने शादी के लिए संजय पर डाला दबाव

उस दौरान अफवाह ये भी उड़ी थी कि मान्यता कई बार अबॉर्शन करा चुकी थीं और इसी बात से परेशान होकर मान्यता ने शादी के लिए संजय पर दबाव डालना शुरू कर दिया था.

मान्यता के इस दबाव के चलते ना चाहते हुए भी संजय ने मजबूरन शादी के लिए हां कर दी. अचानक मान्यता से शादी के फैसले को सुनकर संजय की दोनों बहनें प्रिया दत्त और नम्रता भी काफी हैरान हो गईं. दोनों बहनों और बेटी त्रिशला ने भी इस शादी का जमकर विरोध किया.

लेकिन उस वक्त संजय इतने मजबूर हो चुके थे कि उनके पास मान्यता से शादी करने के अलावा और कोई चारा नहीं बचा था.

गौरतलब है कि जब संजय दत्त मान्यता से पहली बार मिले थे तो ये उनके लिए सिर्फ एक रात की बात थी लेकिन मान्यता ने संजय से प्यार का खेल बड़ी ही चालाकी से खेला जिसमें संजय दत्त फंस गए और उन्हें ना चाहते हुए भी मान्यता को अपनी दुल्हन के रुप में स्वीकार करना पड़ा.

Don't Miss! random posts ..