ENG | HINDI

क्या आप जानते है 1987 में सचिन तेंदुलकर पाकिस्तान की तरफ से खेल चुके है?

क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर

भारत एक ऐसा देश है जहाँ क्रिकेट को धर्म और क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को भगवान माना जाता है।

क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर एक ऐसे बल्लेबाज है जिन्होंने कई ऐसे रिकॉर्ड बनाये है जिनको आज के समय में तोड़ पाना मुश्किल ही नही नामुमकिन है। सचिन क्रिकेट की दुनिया के एक ऐसे लिविंग लीजेंड है जो जब भी कोई मैच खेलने उतरते थे तब कोई ना कोई नया रिकॉर्ड बनाते थे। हालाँकि अब सचिन ने क्रिकेट से सन्यास ले लिया है, लेकिन फिर भी उनकी लोकप्रियता आज भी कम नहीं हुई है।

वे हमेशा इस दुनिया में अपनी वर्ल्ड क्लास क्रिकेट के लिए याद किये जायेंगे।

वैसे क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के नाम कई रिकॉर्ड तो है ही लेकिन एक ऐसा रिकॉर्ड भी है जिसके बारे में बहुत ही कम लोगों को पता है।

जी हाँ क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के नाम एक ऐसा रिकॉर्ड भी है जिसके बारे में कोई नहीं जानता है। हम बात कर रहे है सचिन का पाकिस्तानी टीम की तरफ से खेलने की। दरअसल सचिन साल 1987 में पाकिस्तान की तरफ से खेल चुके है। ये बात उस समय की है जब सचिन ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण नहीं किया था। तब मुंबई के ब्रेबॉन स्टेडियम में भारत और पाकिस्तान के बीच प्रैक्टिस मैच खेला जाना था। लेकिन पाकिस्तान के पास एक प्लेयर की कमी थी जिसे पूरा करने के लिए सब्स्टिट्यूट के तौर पर सचिन को उनकी टीम में शामिल किया गया था। सचिन ने इस मैच में सिर्फ फील्डिंग की थी।

क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर इस मैच में ग्यारहवें खिलाड़ी के रूप में शामिल हुए थे।

लेकिन क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने इस मैच में सिर्फ फील्डिंग ही की थी। अब आप ही सोचिए कि जिस प्लेयर को पाकिस्तानी टीम ने सब्स्टिट्यूट के रूप में खिलाया था वही प्लेयर बाद में पाकिस्तानी गेंदबाजों के छक्के छुड़ाकर कई रिकॉर्ड बनाता है।

Don't Miss! random posts ..