ENG | HINDI

सचिन अंजलि की लव स्टोरी, 5 साल लंबी चली दोनों की रोमांस की कहानी

सचिन अंजलि की लव स्टोरी

सचिन अंजलि की लव स्टोरी – क्रिकेट के भगवान और मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को कौन नहीं जाता है. उनका जितना शानदार  क्रिकेट का सफ़र रहा उतना ही इंटरेस्टिंग उनकी लव स्टोरी.

90 के दशक में सचिन क्रिकेट जगत में तेजी से अपनी पहचान बना रहे थे और वही  दूसरी तरफ उनके घुंघराले बालों पर लाखों लोग दीवाने थे और खासकर लड़किया. लेकिन अपने करियर में आगे बढ़ने और रन बनाने के धुन में सचिन के पास लाखों लड़कियों के साथ रोमांस करने की मानो फुर्सत ही नहीं थी.

24 may 1995 को हजारों हसीनाओं का नाजुक दिल तोड़ते हुए सचिन ने अंजलि से शादी कर ली.

सचिन अंजलि की लव स्टोरी

तब सचिन महज 22 साल के थे और अंजलि उनसे 6 साल बड़ी थी. क्रिकेट के  मैदान पर बल्ले से बोलने वाले सचिन अंजलि की लव स्टोरी किसी  बॉलीवुड से कम दिलचस्प नहीं है। दोनों की पहली मुलाकात शादी से करीब 5 साल पहले हुई थी. 1990 में मुंबई एयरपोर्ट पर जब सचिन इंग्लैंड का दौरा से भारत लौट रहे थे तो अंजलि भी वहीं पर थीं और वहीं उनकी मुलाकात हो गई. इस पहली मुलाकात के बाद दोनों ने करीब पांच साल तक रोमांस किया, लेकिन खास बात यह रही कि किसी को भी इसकी खबर तक नहीं लगी।.

1994 में दोनों ने सगाई न्यूजीलैंड में की और तभी पूरी दुनिया को दोनों के रिस्ते के बारें में  पता चली.

इसके कुछ महीने बाद अगले साल 1995 में दोनों ने विवाह भी कर लिया. उस समय देश में मीडिया का ज्यादा प्रभाव नहीं था इसलिए उन्हें रोमांस करने में ज्यादा दिक्कत नहीं आई और चुपचाप रोमांस में लगे रहे.

सचिन अंजलि की लव स्टोरी

शादी से पहले दोनों ने एक साथ पहली फिल्म ‘रोजा’ देखी थी. जिसके लिए सचिन सरदार के लुक में पुरे तरह तैयार होकर गए थे. ये सब सचिन ने अपने पेहचान छुपाने के लिया  किया था. फिल्म के इंटरवल था तो सब सही रहा लेकिन इंटरवल  के बाद लोगों का नज़र  उन पर पड़ी और लोगों ने पेहचान लिए जिस वह से उन्हें फिल्म बिच में से ही छोड़ाकर जाना पड़ा और उसके बाद  शादी  से पहले दोनों मिलकर कभी भी फिल्म देखने नहीं गए.

शादी के बाद भी करीब 18 साल तक क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर का करियर चला और काफी रन भी बनाए. वह जब भी ‌क्रिकेट खेलने जाते थे तो अंजलि स्टेडियम में कम ही नजर आती थीं क्योंकि अंजलि सचिन पर इस कदर दीवानी हैं कि वह जब भी बल्लेबाजी करने क्रीज पर जाते थे तो इस दौरान वह न कुछ खाती थीं, न फोन उठाती थीं और न ही कहीं हिलती डुलती थीं. लेकिन उनके संन्यास लेने के बाद वह काफी समय सचिन के साथ बिताने लगी और हर काम में उनका साथ देती है.  अंजलि एक गुजराती उद्योगपति आनंद मेहता और ब्रिटिश सामाजिक कार्यकर्ता अनाबेल मेहता की पुत्री हैं.

सचिन अंजलि की लव स्टोरी

ये थी सचिन अंजलि की लव स्टोरी – सचिन तेंदुलकर को अर्जुन अवार्ड, पद्माश्री , पद्मा विभूषण,  राजीव गाँधी खेल रत्न अवार्ड जैसे बड़े पुरस्कार भी मिले है. तेंदुलकर के 2 बच्चे हैं सारा और अर्जुन सारा का जन्म 12 अक्टूबर, 1997 को हुआ जबकि क्रिकेटर बनने की चाह रखने वाले अर्जुन ने सचिन के घर कदम रखा 24 सितंबर, 1999 को.

Don't Miss! random posts ..