ENG | HINDI

नहाते समय भूलकर भी न करें ऐसा वरना पड़ेगा महंगा

नहाने का सही तरीका

नहाने का सही तरीका – नहाना हर व्यक्ति के लिए ज़रूरी है. नहाने से शरीर स्वस्थ रहता है और मन में अच्छे विचार आते हैं.

मनुष्यों की तरह बाकी जिव जंतु नहीं नहाते. यही कारण है कि उनमें और हममें बहुत अंतर है. सुबह सबेरे स्नान आदि करके काम की शुरुआत करें तो मन शुध्द रहता है और मस्तिष्क अपना काम अच्छी तरह से करता है.

नहाने के कई फायदे हैं :

  • शरीर का मेल निकल जाता है.
  • दिमाग स्वस्थ रहता है.
  • अच्छे विचार का आदान प्रदान.
  • बीमारियाँ दूर रहती हैं.
  • शरीर से बदबू नहीं आती.

इसके अलावा भी नहाने के बहुत फायदे हैं. बीमार होने पर भी डॉक्टर नहाने की सलाह देते हैं. नहाने के इन फायदों का असर तभी होता है जब आप सही तरह से नहाते हैं. अब आप सोच में पड़ गए होंगे कि ये सही तरीका क्या होता है. हर काम का अपना एक तरीका होता है. अगर काम सही तरह से नहीं किया गया तो उसका फल हैं नहीं मिलता.

ठीक उसी तरह से स्नान करने का एक तरीका है. अगर सही तरीके से स्नान नहीं किया गया तो १-२ नहीं बल्कि कई तरह की परेशानियाँ होती हैं. ये इस प्रकार हैं:

  • अक्सर गुस्सा होना.
  • बीमार पड़ना.
  • ब्लड प्रेशर की परेशानी.
  • सर में दर्द होना.
  • जल्दी जल्दी बुखार आना.

इन सभी समस्याओं को आप तभी दूर रख सकते हैं जब आप सही तरह से नहाएं.

नहाने का सही तरीका

नहाने का सही तरीका है कि आप सबसे पहले अपने सर पर पानी डालें. इससे सर की गर्मी धीरे धीरे नीचे उतरती है. यही सही तरीका है. फिर अपने कंधे पर फिर हाथों पर फिर शरीर पर और सबसे अंत में पैरों पर पानी डालें. इससे शरीर का तापमान बना रहता है. आप स्वस्थ रहते हैं.

नहाने का गलत तरीका

पहले पैर पर पानी डालना गलत तरीका है. ये है नहाने का सही तरीका – अब से इसी तरह नहाएं और समस्या से बचें. अपने शरीर को स्वस्थ रखें.

Don't Miss! random posts ..