ENG | HINDI

हर भाई अपनी बहन को जरूर बताता है ये बातें

बहन और भाई का रिश्‍ता

बहन और भाई का रिश्‍ता बड़ा खट्टा-मीठा होता है।

नोंकझोंक से भरे इस रिश्‍ते में रूठना-मनाना और मां-बाप की डांट से बचाना चलता रहता है।

यही अटपटी सी बातों से बहन और भाई का रिश्‍ता मजबूत और गहरा बनता है। बहनें बड़ी हों तो ये रिश्‍ता और भी ज्‍यादा खास हो जाता है। बड़ी बहनें मां की तरह प्‍यार तो करती ही हैं साथ ही दोस्‍त की तरह आपके हर राज़ को भी छिपाए रखती हैं।

कई बार बहनें अपने भाईयों के लिए सुरक्षा कवच का काम करती हैं।

आज हम आपको कुछ बताते है बहन और भाई का रिश्‍ता और ऐसी ही चीज़ के बारे में कि किस तरह बहनें अपने भाई की रक्षा करती हैं।

बहन और भाई का रिश्‍ता –

1 – मम्‍मी-पापा की डांट से

दोस्‍तों के साथ घूमकर घर देर से आना और पॉकेट मनी से ज्‍यादा पैसे खर्च करने जैसे मौकों पर भाईयों को अपनी बहनों के साथ की जरूरत बहुत पड़ती है। ऐसे मौकों पर बहनें ना जाने कितने बहाने बनाती हैं।

2 – अपनी सेविंग खत्‍म करना

भाईयों की जरूरत को पूरा करने के लिए बहनें अपनी सेविंग तक को दरकिनार कर देती हैं। जब मां-बाप अपने बेटे की कोई जिद पूरी नहीं करते हैं तब वो बहन ही होती है जो अपने भाई की खुशी के लिए अपनी सेविंग तक खर्च कर देती है।

3 – गिफ्ट की ज्‍यादा डिमांड ना करना

राखी, भाई दूज हो या फिर जन्‍मदिन, ऐसा बहुत ही कम होता है जब बहनें अपने भाई से कोई गिफ्ट लेती हों या भाई उन्‍हें अपने मन से कोई गिफ्ट देते हों। बहनों को अपने भाई से सिर्फ प्‍यार ही होता है और इससे ज्‍यादा उन्‍हें और कोई उम्‍मीद भी नहीं रखनी चाहिए क्‍योंकि भाईयों के पास गर्लफ्रेंड के गिफ्ट के पैसे तो होते हैं लेकिन बहन के लिए तंगी छा जाती है।

बहन और भाई का रिश्‍ता – बहन छोटी हो या बड़ी, भाई को लेकर बहुत ज्‍यादा पोज़ेसिव होती हैं। अपने भाई को लेकर वो अपने पति या ब्‍वॉयफ्रेंड तक से झगड़ पड़ती हैं।

Don't Miss! random posts ..